जयपुर में बढ़ा एचबीए 1 सी का स्तर

HbA1c level : जयपुर . Novo Nordisk Education Foundation ने 'Impact India: 1000-Day Challenge' Program के अंतर्गत India Diabetes Care इंडेक्स की पहले वर्ष की Report प्रकाशित की है। इस रिपोर्ट के अनुसार जयपुर में लंबी अवधि के Blood Sugar नियंत्रण का सर्वाधिक अनुशंसित संकेत HbA1c level लेवल 8.26 प्रतिशत से बढ़कर 8.37 प्रतिशत पहुंच गया है।

By: Anil Chauchan

Updated: 03 Dec 2019, 08:21 PM IST

HBA1C level : जयपुर . नोवो नोर्डिस्क एज्युकेशन फाउंडेशन ( Novo Nordisk Education Foundation ) ने 'इम्पैक्ट इंडिया: 1000-डे चैलेन्ज' प्रोग्राम ( 'Impact India: 1000-Day Challenge' Program ) के अंतर्गत इंडिया डायबिटीज केयर ( India Diabetes Care ) इंडेक्स की पहले वर्ष की रिपोर्ट ( report ) प्रकाशित की है। इस रिपोर्ट के अनुसार जयपुर में लंबी अवधि के ब्‍लड शुगर ( blood sugar ) नियंत्रण का सर्वाधिक अनुशंसित संकेत एचबीए 1 सी लेवल ( HbA1c level ) 8.26 प्रतिशत से बढ़कर 8.37 प्रतिशत पहुंच गया है।


एचबीए 1 सी की जांच 3 महीने के लिए ब्‍लड शुगर नियंत्रण के औसत स्तर का अनुमान देती है। शहर में 54 वर्ष की औसत आयु वाले लगभग 11 हजार 400 लोग इस विश्लेषण का हिस्सा बने, जिनमें 60 प्रतिशत पुरूष और 40 प्रतिशत महिलाएं थीं।


इस रिपोर्ट के बारे में इटर्नल हॉस्‍पीटल के एडोक्रिनोलॉजिस्‍ट डॉ. सैलेश लोढ़ा ने कहा कि जयपुर में एचबीए 1 सी के स्तर का बढऩा गंभीर चिंता का विषय है। मधुमेह का अधिक प्रभावी नियंत्रण करने के लिए हमें ठोस प्रयास करने होंगे। मधुमेह से पीडि़त लोग भी स्वस्थ्य जीवन जी सकते हैं, यदि वे स्वास्थ्यवर्धक आहार लें और नियमित आधार पर अपने ब्‍लड शुगर लेवल की जांच करें।


इस प्रोग्राम के बारे में नोवो नोर्डिस्क एज्युकेशन फाउंडेशन के ट्रस्टी डॉ. अनिल शिंदे ने कहा कि नोवो नोर्डिस्क में हम लगभग 100 वर्षों से चेंजिंग डायबिटीज पर काम कर रहे हैं। इम्पैक्ट इंडिया पहल के साथ हमने एक महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा है और उम्‍मीद है कि हम भारत को डायबिटीज प्रबंधन में एक रोल मॉडल के तौर पर देखेंगे। 'इम्पैक्ट इंडिया: 1000-डे चैलेन्जÓ प्रोग्राम भारत में अनियंत्रित डायबिटीज की बढ़ती चिंता को दूर करने के लिए पेश किया गया था।


यह प्रोग्राम एक वर्ष पहले लॉन्च किया गया था, ताकि भारत में डायबिटीज के अपर्याप्त नियंत्रण की समस्या को बताया जा सके। इस प्रोग्राम का उद्देश्य है एचबीए 1 सी के राष्ट्रीय औसत को घटाकर एक प्रतिशत करना है, जिससे भारत में डायबिटीज से संबंधित जटिलताओं का जोखिम कम करने में मदद मिल सकती है।

Anil Chauchan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned