कहीं खुल न जाए पोल इसलिए दरिंदगी पर उतर आया वह

वह किशोरी से एकतरफा प्रेम करता था। उसने शौच करने गई किशोरी से बदसलूकी की। जब किशोरी ने उसकी हरकत परिवार जनों को बताने के लिए कहा तो बाल अपचारी ने उसकी हत्या कर दी।

By: Abhishek sharma

Published: 30 Apr 2016, 11:54 PM IST

सदर थाना क्षेत्र के सोरण में गत दिनों किशोरी की हत्या गांव के ही बाल अपचारी ने की थी। वारदात के बाद वह मौके से फरार हो गया था। वह किशोरी से एकतरफा प्रेम करता था। उसने शौच करने गई किशोरी से बदसलूकी की। जब किशोरी ने उसकी हरकत परिवार जनों को बताने के लिए कहा तो बाल अपचारी ने उसकी हत्या कर दी। 

9वीं कक्षा की छात्रा थी किशोरी

पुलिस ने शनिवार को पूछताछ के बाद उसे निरुद्ध किया है। पुलिस अधीक्षक प्रीति जैन ने बताया कि सोरण में अपने नाना के घर रह रही 9वीं कक्षा की छात्रा देवन्ता (16) पुत्री सत्यनारायण गुर्जर की गत 24 अप्रेल को लकड़ी से पीटकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस पूछताछ में सोरण गांव के ही एक बाल अपचारी की भूमिका संदिग्ध नजर आई। इस पर पुलिस ने चराई गांव के जंगलों में छिपे बाल अपचारी पकड़ लिया। छठी कक्षा तक पढ़े बाल अपचारी ने पूछताछ में किशोरी की हत्या करना स्वीकार किया है। 

एक तरफा था प्रेम

बाल अपचारी ने पुलिस को बताया कि देवन्ता को वह पसंद करता था। वह उससे एक तरफा प्यार करने लगा था। वारदात के दिन वह सुबह 11 बजे बमोर रोड स्थित कच्चे मार्ग की ओर देवन्ता शौच करने गई थी। इस बीच वह भी पीछे-पीछे चला गया। रास्ते में उसे पकड़ लिया। इस बीच वह हाथ छुड़ाकर भागने लगी तथा परिजनों को घटना की जानकारी देने की बात कही। 

सिर पर किए वार पर वार 

पहचान होने के डर से उसने आनन-फानन में पास ही बने बाड़े से लकड़ी उठाकर देवन्ता के सिर पर कई वार किए। इससे उसकी मृत्यु हो गई। उसे मृत मानकर वह मौके से भाग छूटा। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि प्रकरण में बाल अपचारी को विधिक संरक्षण में लेकर अनुसंधान जारी है। विद्यालय दस्तावेज के मुताबिक बाल अपचारी की आयु 14 से 16 वर्ष है।

Show More
Abhishek sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned