हेल्थ के लिए अच्छी मेडिटेरेनियन डाइट

मेडिटेरेनियन डाइट हार्ट डिजीज, कुछ प्रकार के कैंसर, डायबिटीज की आशंका को कम करने के साथ ही संज्ञानात्मक क्षमता को कम होने से रोकती है।

By: Archana Kumawat

Published: 27 Mar 2020, 07:09 PM IST

हार्ट डिजीज और स्ट्रोक की आशंका होगी कम - कुछ अध्ययनों से सामने आया कि यदि आप सीमित मात्रा में मेडिटेरेनियन डाइट का अनुसरण करते हैं तो हार्ट को बीमारियों से बचाया जा सकता है। मेडिटेरेनियन डाइट विटामिंस, मिनरल्स और एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है, जो बुरेे कोलेस्ट्रोल को कम करती है। साथ ही रक्तचाप को भी सुचारू बनाती है, जिससे स्ट्रोक की आशंका कम हो जाती है।

अल्जाइमर का रिस्क कम - कई तरह के अध्ययनों से यह सामने आया है कि मेडिटेरेनियन डाइट के सेवन ब्रेन हेल्थ के लिए फायदेमंद है। दरअसल यह डाइट संपूर्ण शरीर में ब्लड वैसल्स को इंप्रूव करने का काम करती है। इस तरह डिमेंशिया और अल्जाइमर डिजीज का रिस्क कम हो जाता है। इतना ही नहीं इस डाइट में एंटी ऑक्सीडेंट्स की मात्रा भी ज्यादा होती है, जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम कर पार्किंसंस रोग की आशंका को भी घटाती है।

टाइप - २ डायबिटीज - मेडिटेरेनियन डाइट में फाइबर मात्रा ज्यादा होती है, जो ब्लड शुगर के बढऩे की प्रक्रिया को धीमा करती है। इसलिए टाइप-२ डायबिटीज के मरीजों को इस डाइट का सेवन करना चाहिए। वजन को नियंत्रित करने के लिए भी यह डाइट लाभकारी होती है। हालांकि डाइट का चुनाव करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले लें।

महिलाओं के लिए लाभकारी- कुछ अध्ययनों से सामने आया कि मेडिटेरेनियन डाइट ऑस्टिओपोरोसिस या हड्डियों की कमजोरी जैसी समस्या को सही करने का तरीका है। पोस्ट मोनोपॉज से गुजर रही महिलाओं को डॉक्टर से इस आहार को अपनाने की सलाह लेनी चाहिए। शोध से सामने आया कि जो महिलाएं मेडिटेरेनियन डाइट का सेवन करती है, उनमें डाइट का सेवन न करने वाली महिलाओं की तुलना में ऑस्टिओपोरोसिस का खतरा कम होता है।

Archana Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned