राजस्थान में फिर बदला मौसम, भारी बारिश के बाद कई इलाकों का संपर्क कटा, यहां 6 इंच बारिश

राजस्थान में फिर बदला मौसम, भारी बारिश के बाद कई इलाकों का संपर्क कटा, यहां 6 इंच बारिश

Dinesh Saini | Updated: 13 Sep 2019, 12:10:19 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Heavy Rain in Rajasthan: राजस्थान से विदाई लेने की कगार पर पहुंचा मानसून ( Monsoon 2019 ) एक बार फिर से सक्रिय हो गया है। प्रदेश के कई इलाकों में झमाझम बारिश ( Heavy Rain in Rajasthan ) का दौर चल पड़ा है। लगातार हो रही बारिश से एक बार फिर नदी-नाले उफन पड़े हैं...

जयपुर। राजस्थान से विदाई लेने की कगार पर पहुंचा मानसून ( Monsoon 2019 ) एक बार फिर से सक्रिय हो गया है। प्रदेश के कई इलाकों में झमाझम बारिश ( Heavy Rain in Rajasthan ) का दौर चल पड़ा है। लगातार हो रही बारिश से एक बार फिर नदी-नाले उफन पड़े हैं। जिससे कई इलाकों का संपर्क आपस में कट गया है। लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। चित्तौडगढ़़ के डूंगला में एक घंटे झमाझम बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। कस्बे सहित क्षेत्र में शुक्रवार को सुबह मेघ जमकर बरसे। आसमान में घने बादल छाये और साढ़े सात बजे से बारिश शुरू हुई जो बाद में मूसलाधार ( Heavy Rain ) में बदल गई। करीब एक घंटे तक जोरदार बारिश से नदी नालों में पानी की आवक फिर से शुरू हो गई। वहीं बांसवाडा जिले में बरसात का दौर लगातार जारी रहने से ग्रामीण क्षेत्रों में रपट पर पानी से संपर्क कट गया है। कई जगहों पर खेत जलमग्न हो गए है। माही बांध में पानी की आवक जारी गेट खोलकर पानी निकासी की जा रही है। जिले में लगभग एक दर्जन से ज्यादा मार्ग बंद हो गए है।

भीलवाड़ा में रिकॉर्ड तोड़ 6 इंच बारिश ( Heavy Rain in Bhilwara )
भीलवाड़ा के जहाजपुर में पिछले 12 घंटे में रिकॉर्ड तोड़ 6 इंच बारिश दर्ज की गई है। कई लोगों ने पहली बार अपने जीवन काल में नाग बांध की चादर पर इतना पानी देखा है। बीगोद कस्बे में नाड़ी ओवरफ्लो हो गई जिससे पानी आबादी क्षेत्र में बने घरों में घुस गया। निचली बस्तियों में 4 फिट तक पानी भर गया है। दशहरा मैदान भी तालाब में बदल गया है।

rajasthan_rain-2.jpg

बूंदी का धोवडा गांव बना टापू, चांदा का तालब बांध पर चली 3 फिट की चाद्दर
बूंदी जिले के गांवों में गुरुवार रात्रि से ही चल रही मूसलाधार बारिश के कारण नदी, तालाब, बांध उफान पर हैं। धोवडा गांव सुबह से ही टापू बना हुआ है। गोठड़ा बूंदी मार्ग के बीच पडऩे वाला धोवडा गांव दोनों ओर से पानी से घिरा होने के कारण दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लगी हुई है। ग्राम नरसिंहपुरा भी टापू बना हुआ है। बेजान नदी उफान पर आने के कारण गोठड़ा ब्राह्मणों का लुहारिया गांव का संपर्क सुबह से ही कटा हुआ है। गोठड़ा बांध पर करीब डेढ़ फीट चादर चल रही है। फसलें जलमग्न हो गई है। फसलें जलमग्न होने के कारण इस बार क्षेत्र के किसानों पर अतिवृष्टि की मार देखने को मिल रही है। नमाना में चांदा का तालब बांध पर 3 फिट की चाद्दर चल रही है। बांध की भराव समता 24.60 है। नमाना बरूधन मार्ग पर स्थित घोड़ा पछाड़ नदी की पुलिया पर उफान आ गया है जिससे आवागमन में परेशानी हो रही है।

rajasthan_rain-3.jpg

बांसवाड़ा में 5 इंच से ज्यादा बारिश
बांसवाड़ा जिले में अनंत चतुर्दशी पर दिनभर कहीं कम-कहीं ज्यादा बारिश का दौर बना रहने के बाद पूरी रात कमोमेश सभी जगह जमकर मेघ बरसे। सबसे ज्यादा बागीदौरा इलाके में 5 इंच से ज्यादा पानी गिरा। इसके अलावा जगपुरा, भूंगड़ा, घाटोल और सज्जनगढ़ इलाकों में तीन इंच से अधिक बरसात हुई। इधर, माही बांध में पानी आवक लगातार बढऩे से शुक्रवार सुबह सभी 16 गेट खोल दिए गए, जिससे हजारों क्यूसेक पानी बह निकला।

प्रतापगढ़ में बारिश का शतक
प्रतापगढ़-चित्तौड़ मार्ग एनएच 113 पर बारावरदा पुलिया पर पानी बहने से 3 घंटे से जाम लगा हुआ है। जिले के कई इलाकों में मार्ग बंद है। प्रतापगढ़ जिला मुख्यालय पर शुक्रवार सुबह 8 बजे तक 102 इंच बारिश हो चुकी है। जिले में गुरुवार रात से मूसलाधार बारिश का दौर जारी है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned