मौसम विभाग ने राजस्थान के 17 जिलों में भारी बारिश की दी चेतावनी

मौसम विभाग ने राजस्थान के 17 जिलों में भारी बारिश की दी चेतावनी

kamlesh sharma | Updated: 08 Aug 2019, 07:24:09 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Heavy Rain Warning: मौसम विभाग ने राजस्थान के 17 पूर्वी एवं दक्षिणी जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी दी है। वहीं, प्रदेश में कुछ इलाकों को छोड़कर शेष में गुरुवार को पिछले दिनों से जारी बारिश का दौर थम गया।

जयपुर। Heavy Rain Warning: मौसम विभाग ने राजस्थान के 17 पूर्वी एवं दक्षिणी जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी दी है। वहीं, प्रदेश में कुछ इलाकों को छोड़कर शेष में गुरुवार को पिछले दिनों से जारी बारिश का दौर थम गया। हालांकि बारिश थमने के बाद भी नदी-नालों और बांधों में पानी की आवक जारी है। अभी भी कई मार्ग बाधित है।

इन जिलों में भारी बारिश की चेतवानी
विभाग ( IMD ) ने बताया कि बांसवाड़ा, भीलवाडा, बूंदी, चित्तौडगढ़़ और प्रतापगढ़ में अगले 24 से 48 घंटों के दौरान कुछ स्थानों पर भारी तथा कुछ एक स्थानों पर अत्यधिक वर्षा होने की संभावना है।

इसके अलावा अजमेर, बारां, दौसा, झालावाड़, कोटा, सवाई माधोपुर, टोंक, धौलपुर, डुंगरपुर, सिरोही, उदयपुर और राजसमंद जिलों में कई स्थानों पर अगले 24 से 48 घंटों के दौरान भारी बारिश होने का अनुमान हैं।

पूर्वी राजस्थान के अधिकांश जिलों में इस दौरान गरज के साथ भारी वर्षा होने की संभावना है। इस बीच सुबह 8.30 बजे समाप्त हुए पिछले 24 घंटों के दौरान सर्वाधिक चार सेंटीमीटर बारिश भीलवाड़ा में रेकॉर्ड की गई।

अजमेर और चित्तौडगढ़़ में 2.5 सेंटीमीटर, अलवर और जोधपुर में एक सेंटीमीटर बरसात हुई। जयपुर, सवाई माधोपुर, कोटा, सीकर, बाड़मेर और उदयपुर में हल्की बारिश हुई।

बांधों में पानी की आवक जारी
सिरोही जिले में बारिश के बाद अंगोर बांध में पांच फीट से अधिक पानी आया। अब यहां एक दिन छोड़कर एक दिन में जलापूर्ति की तैयारी की जा रही है। अभी चार दिन में एक बार आपूर्ति हो रही थी। जालोर क्षेत्र में बुधवार रात में रिमझिम बारिश हुई। यहां लाटाडा बांध पर पानी की चादर चल गई। बूंदी जिले में तेज बारिश के बाद अब भी नदियों में उफान है।

आधा दर्जन रास्ते अब भी बंद है। यहां आधा दर्जन छोटे बांधों पर चादर चल रही है। बाड़मेर में रातभर रिमझिम हुई। श्रीगंगानगर के मिर्जेवाला क्षेत्र में करीब आधा घंटे तक तेज बरसात हुई।

बांसवाड़ा में गुरुवार सुबह आठ बजे तक केसरपुरा में 52 मिमी, सल्लोपाट में 46 और कुशलगढ़ में 36 मिमी बरसात हुई। जिले के गांगड़तलाई के भंडारा नाले पर बने एनिकट की चादर बुधवार को चल गई। उदयपुर संभाग के सबसे बड़े माही बांध में गुरुवार सुबह तक जलस्तर 275.70 मीटर हो गया।

सुरवानियां बांध के दो गेट खोले
बांसवाड़ा क्षेत्र में दो दिनो से हो रही लगातार बारिश के चलते बांधो में पानी की आवक तेज हुई है। केसरपुरा में 2 इंच बारिश दर्ज की गई। वहीं शहर के निकट सुरवानिया बांध में गुरुवार दोपहर को दो गेट एक एक फिट खोल दिए गए। चित्तौडगढ़़ जिले में गुरुवार को रिमझिम बारिश होती रही।

भैसरोडगढ़़ में 17 मिलीमीटर बारिश हुई। जैसलमेर में झमाझम बारिश हुई। क्षेत्र के मोहनगढ़, पोकरण व रामदेवरा में भी बादल बरसे। भीलवाड़ा जिले के गोवटा बांध पर चादर चल रही है, जबकि जैतपुरा बांध लबालब हो गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned