नहीं चले हूपर, सड़कों पर आया कचरा

शहर के सफाई व्यवस्था बेपटरी होती जा रही है। इस बीच घर—घर कचरा संग्रहण (door to door garbage collection) करने वाली कम्पनी बीवीजी के कर्मचारी वेतन की मांग को लेकर बुधवार को फिर हड़ताल पर चले गए। इससे शहर में हूपर कचरा संग्रहण के लिए नहीं पहुंच पाए। घरों का कचरा सड़क पर आ गया। कुछ वार्डों में तो पिछले 3—4 दिन से हूपर कचरा लेने नहीं पहुंचे, ऐसे में बुधवार को स्थिति और अधिक बिगड़ती नजर आई।

By: Girraj Sharma

Published: 15 Sep 2021, 09:53 PM IST

नहीं चले हूपर, सड़कों पर आया कचरा

जयपुर। शहर के सफाई व्यवस्था बेपटरी होती जा रही है। इस बीच घर—घर कचरा संग्रहण (door to door garbage collection) करने वाली कम्पनी बीवीजी के कर्मचारी वेतन की मांग को लेकर बुधवार को फिर हड़ताल पर चले गए। इससे शहर में हूपर कचरा संग्रहण के लिए नहीं पहुंच पाए। घरों का कचरा सड़क पर आ गया। कुछ वार्डों में तो पिछले 3—4 दिन से हूपर कचरा लेने नहीं पहुंचे, ऐसे में बुधवार को स्थिति और अधिक बिगड़ती नजर आई। खासकर परकोटे के वार्डों में सफाई व्यवस्था अधिक खराब नजर आई। यहां बाजारों के साथ मुख्य मार्गों पर भी कचरे के ढेर पड़े रहे। कॉलोनियों में भी सड़क पर कचरा नजर आया।

भुगतान न होने से हूपर पर काम करने वाले कर्मचारी हड़ताल पर चले गए। इससे सबसे अधिक प्रभावित जनता हुई। हूपर के इंतजार के बाद लोगों ने कचरा सड़क किनारे डालना शुरू कर दिया। उधर, संयुक्त वाल्मीकि एवं सफाई श्रमिक संघ यूनियन के नंदकिशोर डंडोरिया ने बताया कि कचरा संग्रहण करने वाली कंपनी ने करीब 1500 से अधिक कर्मचारियों का भुगतान नहीं किया है। इस वजह से कचरा संग्रहण में लगे कर्मचारियों ने कार्य बहिष्कार कर रखा है। इसकी वजह से हेरिटेज नगर निगम के साथ जयपुर ग्रेटर में भी हूपर नहीं चल पाए।


वार्ता के लिए बुलाया....

डंडोरिया का कहना है कि हेरिटेज निगम आयुक्त ने गुरुवार को वार्ता के लिए बुलाया है। हालांकि गुरुवार को छुट्टी होने से कर्मचारी काम पर नहीं आएंगे। इससे शहर में सफाई व्यवस्था पटरी पर आने की उम्मीद कम ही है।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned