Rajasthan Goverment : अफसरशाही ने मजाक बना दी 'Pinkcity Heritage Walk'

Heritage walk का 25 जनवरी 2020 को होना था उद्घाटन,

अब तक Vehicle Free Zone ही चिन्हित नहीं, ऐनवक्त पर बनाई जम्बो कमेटी

Pawan kumar

23 Jan 2020, 10:42 AM IST

जयपुर। यूनेस्को ने भले ही गुलाबी नगर को हेरिटेज सिटी का दर्जा दे दिया है, लेकिन राज्य सरकार की मशीनरी इतनी नकारा है कि हेरिटेज वॉक के लिए 10 जुलाई 2019 से 22 जनवरी 2020 तक व्हीकल फ्री जोन चिन्हित नहीं कर पाई है। चारदीवारी इलाके में व्हीकल् फ्री जोन चिन्हित करने के लिए कई बार बैठक हो चुकी है, लेकिन नतीजा सिफर रहा है। राज्य बजट 2019—20 में घोषणा के अनुसार 25 जनवरी 2020 को हेरिटेज वॉक की उद्घाटन तारीख तय की गई थी। 25 जनवरी 3 दिन बाद है पर हेरिटेज वॉक के लिए व्हीकल फ्री जोन का कोई अतापता नहीं है। अब ऐनवक्त पर चारदीवारी इलाके में व्हीकल फ्री जोन के लिए 12 अधिकारियों की जम्बो कमेटी गठित की गई है। इस कमेटी में शामिल अधिकारी अब व्हीकल फ्री जोन की तलाश करेंगे। इसका मतलब साफ है कि 25 जनवरी को जयपुर में हेरिटेज वॉक शुरू नहीं होने जा रही है।

ये है जम्बो कमेटी

हेरिटेज वॉक के लिए व्हीकल फ्री जोन चिन्हित करने की खातिर गठित 12 सदस्यीय कमेटी में प्रमुख शासन सचिव पर्यटन विभाग, प्रमुख शासन सचिव कला साहित्य एवं पुरातत्व विभाग, प्रमुख शासन सचिव वन एवं पर्यावरण विभाग, शासन सचिव स्वायत्त शासन विभाग, मुख्य कार्यकारी अधिकारी नगर निगम जयपुर, संयुक्त सचिव वन विभाग, निदेशक पर्यटन विभाग, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जयपुर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट लिमिटेड, निदेशक एवं संयुक्त शासन सचिव नगरीय विकास विभाग, निदेशक पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग, उप शासन सचिव कला एवं संग्रहालय विभाग और अधीक्षण पुरातत्वविद् भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षेण जयपुर—जोधपुर वृत्त को शामिल किया गया है। इस कमेटी का कार्यकाल 5 साल तक रहेगा और पर्यटन विभाग को समिति का प्रशासनिक विभाग बनाया गया है।

ये है हेरिटेज वॉक रूट
जानकारी के अनुसार हेरिटेज वॉक का प्रस्तावित रूट अजायबघर से शुरू होकर मनिहारों का रास्ता, किशनपोल बाजार, चौकड़ी मोदी खाना से होते हुए चौड़ा रास्ता रहेगा। यातायात पुलिस ने इस रूट को संभावित व्हीकल फ्री जोन के रूप में चिन्हित करने का सुझाव दिया है। लेकिन यह रूट अंतिम तौर पर तय नहीं हुआ है। पर्यटन विभाग समेत दूसरे विभागों के अधिकारी अब चारदीवारी में व्हीकल फ्री जोन चिन्हित करने के लिए कवायद शुरू करेंगे। ताकि पर्यटक हेरिटेज वॉक के दौरान बिना किसी व्यवधान के जयपुर की स्थापत्यकला, बाजारों और यहां की संस्कृति को देख सकें।

रूट तय होने के बाद होगा फसाड वर्क
हेरिटेज वॉक का व्हीकल फ्री रूट फाइनल होने के बाद फसाड़ कार्य करवाया जाएगा। हेरिटेज वॉक के रूट को आकर्षक लुक देने के लिए फेस लिफ्ट वर्क करवाना प्रस्तावित है। फसाड वर्क के स्मार्ट सिटी, पुरातत्व विभाग, पर्यटन विभाग, नगर निगम और एडमा को मिलकर काम करना है। लेकिन फसाड वर्क कौन करे इसे लेकर ये विभाग आपस में लड़ रहे हैं। स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने फसाड वर्क का जिम्मा एडमा को दिया। लेकिन एडमा के इंजीनियर्स ने इससे इनकार कर दिया। इसी तरह नगर निगम और पर्यटन विभाग भी फसाड वर्क करने की जिम्मेदारी से बच रहे हैं। ऐसे में ये स्पष्ट नहीं है कि हेरिटेज वॉक का रूट तय होने के बाद फसाड वर्क कौन करेगा।

Pawan kumar Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned