सोना देवी तो राज्यसभा से ही कांग्रेसी हो गई थी

सोना देवी तो राज्यसभा से ही कांग्रेसी हो गई थी

Arvind Singh Shaktawat | Publish: May, 18 2018 02:54:35 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

- विधायक सोना देवी के कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण पर बोली भाजपा

 

जयपुर।
जमींदारा पार्टी की विधायक सोना देवी के कांग्रेस में जाने के सवाल पर भाजपा ने साफ कर दिया है कि उनके जाने से पार्टी पर कोई असर नहीं आने वाला। सोना देवी तो राज्यसभा चुनावों में ही कांग्रेसी हो गई थी। उन्होंने उस समय भी भाजपा के उम्मीदवार को वोट नहीं दिया था।
भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी ने भाजपा प्रदेश कार्यालय में शुक्रवार को पत्रकारों से कहा कि जमींदारा पार्टी ने राज्यसभा चुनावों में भाजपा उम्मीदवारों को समर्थन दिया था। कामिनी जिंदल के अलावा सोना देवी भी भाजपा की बैठक में आई थी, लेकिन उन्होंने भाजपा उम्मीदवार को वोट ही नहीं दिया। उनको यह भय हो गया था कि पार्टी अब उनको टिकट नहीं देगी। एेसे में वह कांग्रेस में चली गईं। उनके कांग्रेस में जाने से भाजपा को कोई फर्क नहीं पड़ेगा। भाजपा पर जातिगत राजनीति करने के आरोपों पर उन्होंने कहा कि भाजपा ने कभी भी जातिय आधार पर राजनीति नहीं की। भाजपा हमेशा से सबका साथ-सबका विकास की नीति पर राजनीति करती है।

भाजपा बड़ा परिवार, छोटी मोटी बातें होती रहती है
भवानी सिंह राजावत के बयान, चन्द्रकांता मेघवाल- प्रहलाद गुंजल के बीच झगड़ा, घनश्याम तिवाड़ी की अनुशासनहीनता मामले में अशोक परनामी ने कहा कि भाजपा एक बड़ा परिवार है और बड़े परिवार में छोटे-मोटे झगड़े होते रहते हैं। राजावत का बयान व्यक्तिगत था, उन्होंने एेसा बयान क्यों दिया। इस बात की उनसे जरूर जानकारी की जाएगी। घनश्याम तिवाड़ी मामले में उन्होंने कहा कि यह मामला पार्टी आलाकमान ने अनुशासन समिति को सौंप रखा है। पार्टी आलाकमान किसी को भी अनुशासन तोडऩे की अनुमति नहीं देता है। उन पर पार्टी को क्या निर्णय करना है। यह पार्टी आलाकमान को ही तय करना है।

कांग्रेस पहले अपने गिरेबां में झांके
परनामी ने पायलट के उस बयान पर पलट कर जवाब दिया है, जिसमें पायलट ने कहा है कि भाजपा ने लोकतंत्र का गला घोंटा है। परनामी ने कहा कि कांग्रेस पहने अपने गिरेबां में झांके। ७० साल तक जनता का गला घोंटा और अब राज्यपाल के निर्णय पर सवाल उठा रही है। राज्यपाल को यह विशेष अधिकार है कि वह कर्नाटक में बहुमत साबित करने के लिए किसे बुलाए। अब कांग्रेस हल्ला क्यों मचा रही है, सुप्रीम कोर्ट का भी निर्णय आ चुका है। कांग्रेस की हालत खिसियानी बिल्ली, खंभा नोचे जैसी हो गई है। उन्होंने दावा किया कि कर्नाटक में भाजपा को पूरा बहुमत मिलेगा

हार्दिक-जिग्नेश के लिए राजस्थान में जगह नहीं
हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवाणी जैसे नेताओं के राजस्थान दौरों को लेकर अशोक परनामी ने कहा कि इनका राजस्थान की धरती पर कोई प्रभाव नहीं है और ना ही कोई प्रभाव पडऩे वाला है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned