scriptHINDU NAV SAMVATSAR 2079 WELCOM INDIAN TRADITION | नवसंवत्सर 2079 : भारतीय परंपरानुसार स्वागत, छोड़ेंगे श्वेत अश्व | Patrika News

नवसंवत्सर 2079 : भारतीय परंपरानुसार स्वागत, छोड़ेंगे श्वेत अश्व

Hindu Nav samvatsar जयपुर। चैत्र शुक्ल प्रतिपदा पर 2 अप्रेल को भारतीय नवसंवत्सर 2079 शुरू होगा। भारतीय परंपरानुसार इस नवसंवत्सर का स्वागत होगा। Indian Tradition welcome नवसंवत्सर के स्वागत के लिए आठ दिशाओं में श्वेत अश्व छोड़े जाएंगे। ये अश्व भारतीय नववर्ष का प्रचार—प्रसार करेंगे। Hindu New Year इसके साथ ही संस्कृति युवा संस्था की ओर से 7 दिवसीय नवसंवत्सर उत्सव का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए नवसंवत्सर उत्सव समारोह समिति का गठन कर दिया गया है।

जयपुर

Published: March 27, 2022 02:14:10 pm

Hindu Nav samvatsar जयपुर। चैत्र शुक्ल प्रतिपदा पर 2 अप्रेल को भारतीय नवसंवत्सर 2079 शुरू होगा। भारतीय परंपरानुसार इस नवसंवत्सर का स्वागत होगा। Indian Tradition welcome नवसंवत्सर के स्वागत के लिए आठ दिशाओं में श्वेत अश्व छोड़े जाएंगे। ये अश्व भारतीय नववर्ष का प्रचार—प्रसार करेंगे। Hindu New Year इसके साथ ही संस्कृति युवा संस्था की ओर से 7 दिवसीय नवसंवत्सर उत्सव का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए नवसंवत्सर उत्सव समारोह समिति का गठन कर दिया गया है। इस बार सोशल मीडिया के माध्यम से भी नवसंवत्सर का प्रचार किया जाएगा।
संस्कृति युवा संस्था व नव संवत्सर उत्सव समारोह समिति के अध्यक्ष पं. सुरेश मिश्रा ने पत्रकारों को बताया कि 2 अप्रेल तक 7 दिवसीय विभिन्न कार्यक्रम नव संवत्सर उत्सव के रूप में आयोजित किए जा रहे है। 28 मार्च को नवसंवत्सर के स्वागत के लिए चार सफेद अश्व छोडे जाएंगे। ये अश्व वास्तु के हिसाब से आठ दिशाओं में ईशान में खोले के हनुमानजी मंदिर, पूर्व में गलता तीर्थ, आग्नेय में गोनेर जगदीशजी मंदिर, दक्षिण में सांगा बाबा, सांगानेर, नैऋत्य में स्वामी नारायण मंदिर, पश्चिम में हाथोज हनुमानजी, वायव्य में कदम्ब डूंगरी व उत्तर में आमेर में काले हनुमान मंदिरजी के लिए छोडे जाएंगे। ये अश्व नवसंवत्सर का अनूठे तरीके से प्रचार-प्रसार करेंगे। मिश्रा ने बताया कि एक जमाने में अश्व छोड़ने की परम्परा थी, उसके माध्यम से राजा लोग अपने साम्राज्य का विस्तार करते थे, लेकिन हम इस अनूठे आयोजन से जयपुर की जनता को नव संवत्सर के प्रति जागरूक करेंगे।
4 दिन, 8 दिशाओं में जाएंगे अश्व
नवसंवत्सर उत्सव समारोह समिति के संयोजक पं. देवीशंकर शर्मा ने बताया कि श्वेत अश्वों को सोमवार सुबह 10 बजे मोती डूंगरी गणेश मंदिर से रवाना किया जाएगा। इनका विधिवत पूजन ज्योतिषाचार्य पं. पवन शर्मा की ओर से किया जाएगा। मोती डूंगरी गणेश मंदिर के महंत कैलाश शर्मा और जयपुर के विभिन्न मंदिरों के संत-मंहत आरती उतारकर श्वेत अश्वों को रवाना करेंगे। ये अश्व 4 दिन तक आठों दिशाओं में जब घूमेंगें, वहीं इनके साथ में समिति के कार्यकर्ता पम्पलेट बांटते हुए चलेंगे। अश्वों पर बैनर लगे होंगे, जिन पर ‘नवसंवत्सर 2079 मंगलमय हो’, ‘नवसंवत्सर 2079 की हार्दिक शुभकानाओं’ लिखा होगा। इस बार विभिन्न एसएमएस, व्हाट्सअप मैसेज, होर्डिंग बैनर लगाकर जयपुर शहर में लोगों से आग्रह करेगें कि वे नव संवत्सर की बधाइयां दें।

नवसंवत्सर 2079 : भारतीय परंपरानुसार स्वागत, छोड़ेंगे श्वेत अश्व
नवसंवत्सर 2079 : भारतीय परंपरानुसार स्वागत, छोड़ेंगे श्वेत अश्व

नवसंवत्सर के दिन होगी महाआरती
महामंडलेश्वर पुरुषोत्तम भारती ने बताया कि 2 अप्रेल को जयपुर के प्रमुख मंदिरों में घंटे-घडियाल बजाकर नवभोर का स्वागत होगा। शाम को गोविन्ददेवजी के मंदिर में महाआरती का आयोजन किया जायेगा। इसके लिए ‘नवसंवत्सर उत्सव समारोह समिति’ का भी गठन किया गया है। समिति जयपुर शहर में विभिन्न मंदिरों में 2 अप्रेल तक विशेष पूजन एवं दीप आरती का आयोजन करेंगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

NIA की टीम ने केमिस्ट की हत्या की जांच के लिए महाराष्ट्र के अमरावती का किया दौराभाजपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में 'अर्थव्यवस्था' और 'गरीब कल्याण' पर प्रस्ताव किया पारित, साथ ही की 'अग्निपथ योजना' की सराहनाAmravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईश्रेयस अय्यर का टेस्ट करियर खतरे में पड़ा, इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के बाद टीम इंडिया से होगी छुट्टी!Indian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.