वक्त की मांग है आपका फैमिली पर्सन बनना!

अपने परिवार के लिए अपने प्यार का इजहार खुल करें। अपनी गतिविधियों के जरिए परिवार के लिए देखभाल और प्यार को प्रदर्शित करें।

By: Amit Purohit

Updated: 23 Apr 2020, 06:29 PM IST

साथ समय बिताएं: पेरेंटिंग का मतलब केवल अपने बच्चों को वित्तीय सहायता देना नहीं है। बच्चों के साथ-साथ आपके जीवनसाथी को भी आपके समय की आवश्यकता किसी और चीज से ज्यादा होती है। अधिक समय बिताने से अपने प्रियजनों के साथ एक मजबूत रिश्ता बनाने में मदद मिलेगी। आप घर के कामों या खाना पकाने में अपनी पत्नी की मदद कर सकते हैं। यहां तक कि अगर आप कार्यों को ठीक से नहीं कर पा रहे हैं तो भी सबको आपकी कंपनी पसंद आएगी।
खुल कर बात करें: संचार की कमी के कारण अधिकांश लोग एक सुखद पारिवारिक जीवन बनाए रखने में विफल होते हैं। अपने साथी और बच्चों के प्यार, चिंताओं, या दुख के संकेतों को पहचानने के लिए संचार आवश्यक है। उन्हें एक खुली और ईमानदार बातचीत के लिए प्रोत्साहित करें ताकि वे सब कुछ खुलकर साझा कर सकें।
प्यार को व्यक्त करें: अपने परिवार के प्रति स्नेह, देखभाल और प्यार को व्यक्त करें। यह उन्हें यह बताने के बारे में नहीं है कि आप उन्हें कितना प्यार करते हैं, बल्कि अपनी गतिविधियों से यह बताना है कि आप उनकी कितनी देखभाल करते हैं। अगर आपका साथी या बच्चा बीमार है, तो तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लें। उनके जीवन में तनाव और समस्याओं के कारणों को जानें और उन्हें सही समाधान दें। बच्चों और अपने साथी को बताएं कि आप उन पर गर्व करते हैं।
परिवार के साथ खड़े रहें: परिवार है तो अच्छा और बुरा, दोनो समय भी आता है। यह आपके प्रियजनों की वित्तीय समस्या, शारीरिक या मनोवैज्ञानिक समस्या हो सकती है। चाहे कितनी भी बुरी स्थिति हो, अपने परिवार के सदस्यों के साथ खड़े रहें। यदि आपके बच्चों ने कुछ बुरा किया है, तो उन पर चिल्लाने की बजाय शांति से बताएं कि उन्होंने क्या गलत किया है।

Amit Purohit Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned