IAS श्रीराम मीणा हत्याकांड को लेकर हुआ बड़ा खुलासा

Ias shriram meena murder: बहुचर्चित आइआरएस श्रीराम मीणा हत्याकांड के आरोपी सुनील मीणा ने फरारी का अधिकांश समय करौली, सवाई माधोपुर इलाके में काटा था। वह जयपुर भी आता था और परिवार वालों से संपर्क में रहता था।

जयपुर। Ias shriram meena murder: बहुचर्चित आइआरएस श्रीराम मीणा हत्याकांड के आरोपी सुनील मीणा ने फरारी का अधिकांश समय करौली, सवाई माधोपुर इलाके में काटा था। वह जयपुर भी आता था और परिवार वालों से संपर्क में रहता था। लेकिन पुलिस को उसकी भनक भी नहीं लगी।

 

शुक्रवार को हुए गिरफ्तार किए गए सुनील मीणा को पुलिस ने पांच दिन के रिमांड पर लिया है। उससे पता लगाने में जुटी है कि फरारी के दौरान किस-किस ने उसकी मदद की और हत्या में कोई और भी शामिल था क्या। गौरतलब है कि 9 जून 2013 को आइआरएस श्रीराम मीणा की हत्या हुई थी। लम्बी तफ्तीश के बाद पुलिस ने सुनील मीणा को आरोपी मानकर उसे फरार घोषित कर 50 हजार रुपए का ईनाम भी घोषित किया था।

 

मामले में पुलिस पर प्रताड़ना के आरोप लगाकर आरोपी कमल ने आत्महत्या कर ली थी। दूसरी ओर सुनील फरार हो गया तो परिजनों ने उसकी गुमशुदगी दर्ज करवाई थी। पुलिस की पूछताछ में सुनील ने बताया कि वह इस मामले को लेकर इतना घबरा चुका था कि उसे किसी पर विश्वास नहीं था। वह कहीं पर नौकरी भी नहीं करना चाहता था। क्योंकि मामला इतना हाईप्रोफाइल था कि हर कोई जानने लगा था। वह रिश्तेदारों के जाता तो 10-15 दिन बाद ही वहां से निकल जाता था। अधिकांश वक्त खानाबदोश तरीके से रहा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned