आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल के मल्टी कैप फंड का बेहतर रिटर्न

मुंबई। अगर आप लंबी अवधि में एक अच्छा कॉर्पस तैयार करना चाहते हैं तो आपको इसकी शुरुआत छोटी सी राशि से भी कर देनी चाहिए। म्यूचुअल फंड ( mutual fund ) की मल्टीकैप कैटेगरी एक ऐसी कैटेगरी है, जो जिसमें अगर एसआईपी के रूप में मासिक 10,000 रुपए का निवेश किया जाए तो 15 सालों में यह राशि 51.6 लाख रुपए हो जाएगी। देश की अग्रणी म्यूचुअल फंड कंपनी आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल ( icici prudential ) म्यूचुअल फंड के मल्टी कैप फंड ने इसी तरह का लाभ दिया है।

By: Narendra Kumar Solanki

Updated: 03 Dec 2019, 12:45 AM IST

अर्थलाभ डॉट कॉम के आंकड़े बताते हैं कि अगर किसी ने आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल के मल्टीकैप फंड में 10 हजार रुपए का मासिक एसआईपी के रूप में निवेश किया होगा, तो 7 सालों में यह 12.1 फीसदी का रिटर्न, 10 सालों में 12.5 और 15 सालों में 12.9 फीसदी का रिटर्न दिया है। यानी इस अवधि में वह राशि 12.9 लाख, 23 लाख और 51.6 लाख रुपए हो गई है। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल मल्टीकैप को 1994 में पेश किया गया था और इसका प्रबंधन एस नरेन करते हैं। इस फंड ने स्थापना के समय से लेकर अब तक 14.43 फीसदी सीएजीआर की दर से रिटर्न दिया है, जबकि निफ्टी 50 का रिटर्न इस दौरान महज 10.36 फीसदी रहा है। यह फंड हाउस टॉप डाउन और बॉटम अप अप्रोच का पालन सेक्टर और स्टॉक के चयन में करता है। शेयरों के चयन में यह फंड हाउस कंपनी की वृद्धि और मजबूत वित्तीय आंकड़ों पर फोकस करता है, जिसमें अच्छे कैश फ्लो प्रबंधन, कॉर्पोरेट गवर्नेंस की नीतियों का समावेश होता है।
मिड कैप एवं स्माल कैप की तुलना में मल्टी कैप फंड कम जोखिम वाले होते हैं। यह ज्यादा विविधीकृत होता है और इसमें तमाम बाजार पूंजीकरण के लिए अधिकत्म स्टॉक एक्सपोजर की सीमा होती है। पिछले कुछ सालों में इन फंडों के पोर्टफोलियो में स्टॉक की संख्या 40 से बढ़कर 70 हो गई है। यह पोर्टफोलियो में जोखिम को कम करता है और यह वृद्धि तथा मूल्य को ध्यान में रखकर निवेश की रणनीति बनाता है। यह बाजार पूंजीकरण अलोकेशन के लिए इन हाउस मॉडल का पालन करता है। 31 अक्टूबर 2019 तक इसका एक्सपोजर लॉर्ज कैप में 74 फीसदी रहा है, जबकि 15 फीसदी मिड कैप में और 11 फीसदी स्माल कैप में रहा है।
चूंकि एस नरेन विपरीत निवेश में विश्वास करते हैं इसलिए यह फंड उन कंपनियों में निवेश करता है, जो वर्तमान में लंबी अवधि के नजरिए से बेहतर लगती हैं। फंड का उद्देश्य सभी सेक्टरों में क्वालिटी वाले स्टॉकों का चयन कर उनमें लंबी अवधि में पूंजी में बढ़त के उद्देश्य के साथ निवेश किया जाता है। पूंजी बाजार नियामक सेबी की मल्टीकैप फंड की परिभाषा के मुताबिक ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम सभी लॉर्ज, मिड एवं स्माल कैप स्टॉकों में निवेश करती है। लेकिन जून 2018 में नई परिभाषा के मुताबिक फंड मैनेजरों को यह सुविधा मिल गई है कि सभी सेक्टरों और बाजार पूंजीकरण में निवेश कर सकते हैं।

Narendra Kumar Solanki Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned