यदि अब ट्रैफिक नियम तोड़े तो लेनी पड़ेगी काउंसलिंग क्लास

काउंसलिंग क्लास में दिखा रहे दुर्घटनाओं के वीडियो और सिखा रहे यातायात नियम

 

By: Priyanka Yadav

Published: 25 Jun 2018, 02:58 PM IST

जयपुर. एक युवक बाइक पर बिना हेलमेट पहने दोस्त से मिलने घर से निकला, जैसे ही वह मुख्य सड़क पर पहुंचा तो सामने से आ रही तेज रफ्तार जीप ने कुचल दिया। हादसे में सिर पर फट गया और मौके पर ही उसकी मौत हो गई...। काउंसलिंग क्लास में यातायात नियमों की जानकारी के साथ एेसी वीभत्स सड़क दुर्घटनाओं के वीडियो देखकर दिल दहल गया। ऐसे दर्दनाक हादसों से बचने के लिए अब कसम खा ली है कि जिंदगी में कभी ट्रैफिक रूल्स नहीं तोड़ेंगे। यह कहना है उन वाहन चालकों का, जिन्होंने नियम तोडऩे के बाद यातायात पुलिस की ओर से चलाई जा रही काउंसलिंग क्लास में हिस्सा लिया। इसके बाद ही उन्हें अपना ड्राइविंग लाइसेंस भी वापस दिया गया। दरअसल, नियम तोडऩे वालों को पुलिस अब लाइसेंस जब्त कर दो घंटे ट्रैफिक नियम-कायदों का पाठ पढ़ा रही है। अंबाबाड़ी स्थित सामुदायिक केंद्र में चल रहे काउंसलिंग सेंटर में दुर्घटना के वीडियो दिखा ट्रैफिक नियम नहीं तोडऩे की सलाह भी दे रहे है। यहां अभी तक 17532 लोगों की काउंसलिंग हो चुकी है। इसकी सफलता को देखते हुए मानसरोवर, वरुण पथ थाने के पास भी नया काउंसलिंग सेंटर खोला गया है।

काउंसलिंग क्लास के दौरान वाहन चालकों को वीडियो के जरिये विभिन्न दुर्घटनाएं दिखाई जा रही हैं, जिससे लोग संवेदनशील बन रहे हैं। यही वजह है कि काउंसलिंग व्यवस्था सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं।
लवली कटियार, पुलिस उपायुक्त यातायात

 

अब लेनी पड़ी 2 घंटे की क्लास

केस01

एडवोकेट जितेंद्र कुमार राव ने किसी को लिफ्ट दी, इस दौरान पीछे बैठी सवारी ने हेलमेट नहीं लगाया। इससे चालान के साथ जितेंद्र को काउंसलिंग क्लास भी लेनी पड़ी। मगर उन्हें यह पहल अच्छी लगी। समझ आया कि बिना हेलमेट गाड़ी नहीं चलानी चाहिए। क्योंकि छोटी सी लापरवाही जान पर भारी पड़ सकती है।

केस02
कोचिंग क्लास में पढ़ाई करने वाले फराद खान व दोस्त हसन जफर ने आईएसआई मार्क हेलमेट नहीं लगा रखा था, तो पुलिस ने उन्हें काउंसलिंग के लिए भेज दिया। क्लास के बाद फराद का कहना था कि पुलिस नियमों का पाठ पढ़ाकर अच्छा काम कर रही है। लाइसेंस बनवाते वक्त ट्रैफिक नियमों पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया

केस03
बाइक पर पीछे बैठी सवारी के आईएसआई मार्क हेलमेट नहीं पहनने के जुर्म में एमबीबीएस कर रहे प्रशांत नवलानी को काउसंलिंग में हिस्सा लेने अम्बाबाड़ी जाना पड़ा। क्लास के बाद प्रशांत ने टै्रफिक रूल्स नहीं तोडऩे की शपथ ली। वीडियो के जरिये दिखाए गए एक्सीडेंट के दृश्य देखने के बाद तो इंसान शायद ही कभी ट्रैफिक नियम तोडऩे का सोचे।

Priyanka Yadav
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned