मोक्षधामों में अंत्येष्टि की आड़ में अवैध वसूली, शिकायतों पर जागी सरकार अब एक्शन पर उतरी

परिवहन मंत्री ने किया अजमेर रोड चुंगी नाके स्थित श्मशान घाट का दौरा

कहा, अवैध वसूली करने वालों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई

By: Amit Pareek

Updated: 17 May 2021, 11:49 PM IST

जयपुर. कोरोना काल में शहर के मोक्षधामों में अंत्येष्टि के दौरान अवैध वसूली की शिकायतों के बाद राज्य सरकार एक्शन में आ गई है। इसी को लेकर परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने सोमवार को अजमेर रोड चुंगी नाके स्थित श्मशान घाट का दौरा किया। उन्होंने आदेश दिया कि श्मशान घाटों में अंत्येष्टि के दौरान यदि सरकार की गाइडलाइन के विपरीत लोगों से ज्यादा वसूली की गई तो ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान हैरिटेज नगर निगम की मेयर मुनेश गुर्जर, जोन उपायुक्त और इंजीनियर्स तथा पुलिस अधिकारी मौजूद थे। गौरतलब है कि राजस्थान पत्रिका ने इस आशय को लेकर हाल ही खबरें प्रकाशित की थी।
उन्होंने कहा कि अखबारों और मीडिया में लगातार ऐसी शिकायतें आ रही थीं कि लोग अंत्येष्टि के नाम पर पीडि़त परिवारों को परेशान कर रहे हैं। ज्यादा पैसा वसूल किया जा रहा है। अब जहां से भी ऐसी शिकायत मिलेगी वहां पर अवैध वसूली बंद करने के लिए श्मशान घाटों का संचालन नगर निगम की देखरेख में किया जाएगा, जिससे लोगों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े।

सब कुछ मुफ्त तो वसूली कैसी?
खाचरियावास ने कहा कि कोरोना महामारी नोबल कॉज है इस वक्त जब किसी के घर में मौत होती है तो वह परिवार वैसे ही परेशान है अब आगे उसको परेशानी नहीं आए इसके लिए सरकार ने मुफ्त में कोरोना मरीजों के अंतिम संस्कार की व्यवस्था चांदपोल, आदर्श नगर और बी टू बायपास श्मशान घाटों पर की है। इसलिए यहां पर एंबुलेंस में शव ले जाकर पूरे विधि विधान से अंतिम संस्कार की व्यवस्था राज्य सरकार के स्तर पर की जा रही है। उन्होंने कहा कि फिर भी यदि किसी को कोई परेशानी हो तो उनको अथवा स्थानीय पार्षद या पुलिस अधिकारियों को सूचित कर सकता है, ऐसे लोगों की सहायता की जाएगी।

Amit Pareek
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned