आखिर क्यों राजनीति में मिलता है आधी आबादी को अधूरा मौका


भाजपा की दूसरी लिस्ट सामने आने के साथ ही ये बात भी साफ हो गई है कि कुछ महिला विधायकों के नाम काटे गए हैं

By: Ankita Sharma

Published: 15 Nov 2018, 01:50 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

देश की दोनों बड़ी पार्टियां ही नहीं चाहती कि राजनीति में महिलाओं की भागीदारी बढ़े। इसकी एक बानगी देखने को मिल रही है जारी की गई प्रत्याशियों की सूची में। हर बार की तरह इस बार भी महिला प्रत्याशी 10 प्रतिशत से भी कम... यह हाल तो तब है जब प्रधानमंत्री खुद महिलाओं के लिए हर दिन नई योजना की बात करते हैं, महिला सशक्तीकरण की बात करते हैं और भाजपा की चुनाव समिति महिलाओं को सम्मानजनक सीटें भी नहीं दे पाती। यानी आधी आबादी को राजनीति में बराबरी का दर्जा पाने के लिए अभी और इंतजार करना होगा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned