उप समिति की रिपोर्ट के बाद ही पैराटीचर्स का मानदेय बढ़ाने पर विचार करेगी सरकार

संविदा कर्मियों के मानदेय बढ़ाने के संबंध में गठित मंत्री मण्डलीय उप समिति की रिपोर्ट आने के बाद ही मदरसा पैरा टीचर्स के मानदेय बढ़ाने पर फैसला होगा।

By: rahul

Published: 15 Sep 2021, 08:00 PM IST

जयपुर। संविदा कर्मियों के मानदेय बढ़ाने के संबंध में गठित मंत्री मण्डलीय उप समिति की रिपोर्ट आने के बाद ही मदरसा पैरा टीचर्स के मानदेय बढ़ाने पर फैसला होगा।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शालेह मोहम्मद नेे बुधवार को विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान जवाब में ये जानकारी दी। उन्होंने बताया कि संविदा कर्मियों के मानदेय बढ़ाने के संबंध में गठित मंत्री मण्डलीय उप समिति को विभाग से चाही गई जानकारी भिजवा दी गई है। अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शालेह मोहम्मद ने कहा कि राज्य में विभिन्न विभागों में कार्यरत संविदा कर्मियों के मानदेय बढ़ाने के लिए एक मंत्री मंडलीय उप समिति का गठन किया हुआ है। उन्होंने बताया कि विभाग में कार्यरत संविदा कर्मियों एवं पैराटीचर्स के संबंध में कार्मिक विभाग को दो बार पत्र लिखे गए हैं। उन्होंने बताया कि अंतिम पत्र 6 सितम्बर 2021 को लिखा गया। उन्होंने बताया कि अब यह समिति ही सभी विभागों में कार्यरत संविदा कर्मियों के साथ मदरसों में कार्यरत पैरा टीचर्स का मानदेय बढ़ाने का निर्णय लेगी।

rahul Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned