महिलाओं के लिए ये 7 सौगातें

रक्षाबंधन और आजादी के दिन महिलाओं के लिए सौगातें लेकर आया है। राजस्थान में सरकार महिलाओं के लिए सात कल्याणकारी योजनाएं लेकर आ रही है, इसमें महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने से लेकर उनके सिर पर छत देने तक की योजनाओं को शामिल किया गया है।

By: Neeru Yadav

Published: 15 Aug 2019, 01:57 PM IST

रक्षाबंधन और आजादी के दिन महिलाओं के लिए सौगातें लेकर आया है। राजस्थान में सरकार महिलाओं के लिए सात कल्याणकारी योजनाएं लेकर आ रही है, इसमें महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने से लेकर उनके सिर पर छत देने तक की योजनाओं को शामिल किया गया है। हाल ही में महिला और बाल विकास मंत्री ममता भूपेश ने भी इन योजनाओं को शुरू करने की बात कही है। सरकार की ये महिला सशक्तिकरण की योजनाएं अगर आती हैं तो इससे महिलाओं को काफी संबल मिलेगा और महिलाओं का स्किल डवलपमेंट भी होगा।
आइये आपको बताते हैं वो कौनसी योजनाएं है
300 पदों पर होगी भर्ती
जल्द ही महिला अधिकारिता विभाग में 300 पदों पर भर्ती भी निकाली जाएगी। इसमें महिला अधिकारिता विभाग में सुदृढीकरण होगा।
साथिनों का बढ़ा मानदेय
आंगनबाड़ी केन्द्रों के और अधिक सृदृढ़ करने के लिए जहां आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के मानदेय में बढ़ोतरी की गई है। वहीं अब सरकार ने साथिनों का मानदेय भी बढ़ा दिया है।
प्रियदर्शिनी इंदिरा गांधी महिला उद्यम प्रोत्साहन योजना -
इस योजना के तहत महिलाओं को उद्यम स्थापना के लिए सहयोग दिया जाएगा। उन्हें आत्मनिर्भर बना सकें इसके लिए अब प्रदेश में महिलाओं को एंटरप्रिन्योर बनाने की दिशा में काम होगा। उम्मीद की जा रही है कि सरकार की इस योजना के चलते महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा और महिला उद्यमी तैयार होंगी।
प्रियदर्शिनी इंदिरा गांधी सौर शक्ति महिला कौशल विकास योजना -
प्रियदर्शिनी इंदिरा गांधी सौर शक्ति महिला कौशल विकास योजना के तहत महिलाओं का स्किल डवलपमेंट होगा। इससे ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को जोड़ा जाएगा। इसमें गरीब सम्पत्तिहीन एवं सीमान्त महिलाओं के आय सृजन एवं कौशल विकास के लिए राशि उपलब्ध कराई जाएगी।
प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला कंप्यूटर प्रशिक्षण योजना
इसमें वर्तमान में चल रही निशुल्क कम्प्यूटर प्रशिक्षण योजना की जगह यह योजना लाने की बात कही गई है।
प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला पुनर्वास योजना
इस योजना के तहत महिला के पुनर्वास के लिए काम होगा। इससे
प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी शक्ति निधि योजना
महिलाओं के लिए एक हजार करोड़ रुपए की प्रियदर्शनी इंदिरा गांधी महिला शक्ति निधि की घोषणा की गई। इसमें गरीब सम्पत्तिहीन और सीमान्त महिलाओं को कौशल विकास की राशि दी जाएगी बल्कि सामूहिक विवाह योजना के लिए भी राशि इसी से मिलेगी।

Neeru Yadav
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned