युवा उद्यमियों का सहयोग कर स्टार्टअप्स को मजबूती दें औद्योगिक संगठन: राज्यपाल

सीआईआई की राजस्थान बिजनेस कॉन्क्लेव आयोजित

By: Rakhi Hajela

Updated: 02 Mar 2021, 11:39 PM IST


राज्यपाल कलराज मिश्र (Governor Kalraj Mishra) ने कहा है कि औद्योगिक संगठनों को नए नए स्टार्टअप शुरू करने की चाह रखने वाले युवाओं का सहयोग कर उन्हें प्रोत्साहित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को गति देने और रोजगार सृजन के लिए इस तरह के प्रयास जरूरी हैं। राज्यपाल मंगलवार को राजस्थान उद्योग परिसंघ (Confederation of Rajasthan Industries) की ओर से आयोजित राजस्थान बिजनेस कॉन्क्लेव को यहां ऑनलाइन सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि युवाओं की सोच रहती है कि जल्द से जल्द डिग्री प्राप्त कर रोजगार हासिल कर सकें, इस सोच को बदलने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि तकनीकी, प्रबंध और उच्च शिक्षा में अध्ययनरत युवाओं का उनकी योग्यता के अनुरूप कौशल विकास करने में भी औद्योगिक संगठन अपनी भूमिका निभाएं। उन्होंने इसके लिए सीआईआई को औद्योगिक विकास के प्रमुख क्षेत्रों को चिन्हित कर युवा प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने का सुझाव दिया।
उन्होंने कहा कि राजस्थान में पर्यटन के क्षेत्र में अब भी अपार संभावना है। इसके लिए चिर.परिचित पर्यटन स्थलों से आगे बढ़ते हुए झालावाड़ की बौद्ध गुफाओं, जालौर की परमार.कालीन संस्कृत पाठशाला जैसे कम चर्चित स्थलों को विश्व पर्यटन मानचित्र पर स्थापित करना होगा। पर्यटन के विकास से होटल, रेस्टोरेंट, हस्तशिल्प जैसे बहुत से लघु.मध्यम उद्योगों का भला हो सकता है।
वन डिस्ट्रिक्ट.वन सेक्टर पर हो रहा काम
शासन सचिव उद्योग एवं रीको के प्रबंध निदेशक आशुतोष एटी पेडणेकर ने कहा कि औद्योगिक विकास के लिए प्रदेश में वन डिस्ट्रिक्ट.वन सेक्टर की नीति पर कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि निवेश आकर्षित करने के लिए दिल्ली.मुम्बई औद्योगिक गलियारा, डीएफसी, भिवाड़ी इन्टीग्रेटेड डवलपमेंट अथॉरिटी जैसे महत्वपूर्ण परियोजना क्षेत्रों को चिन्हित कर योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जा रहा है, जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। सीआईआई के उत्तर क्षेत्र के चेयरमैन निखिल साहनी ने कहा कि राजस्थान में निवेश आकर्षित करने और औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने के लिए सौर ऊर्जा, पेट्रोलियम, कृषि, खाद्य प्रसस्ंकरण जैसे क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में निर्यात प्रोत्साहन के लिए किए जा रहे प्रयासों के चलते नीति आयोग द्वारा जारी एक्सपोर्ट प्रिपेयर्डनेस इन्डेक्स २०२० में राजस्थान को सम्पूर्ण स्थल सीमा वाले राज्यों में सर्वोच्च स्थान मिला है। राजस्थान बिजनेस कॉन्क्लेव में सीआईआई राजस्थान के चेयरमैन विशाल वैद, वाइस चेयरमैन संजय साबू ने भी विचार व्यक्त किए।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned