आईओसीएल की लाइन में सेंध: जर्मनी से मंगवाया चोरी के लिए वॉल, 10 मिनट में करते 20 हजार लीटर ऑयल चोरी

शाहपुरा में हाइवे के नीचे से खुदाई कर आइओसीएल पाइप लाइन से कर रहे थे चोरी, मेड इन जर्मनी का वॉल लगा रखा था पाइप लाइन में, क्रूड ऑयल चोरी का सरगना पकड़ा, ऑयल खपाने वाला सांझेदार भी गिरफ्तार

By: pushpendra shekhawat

Updated: 29 Jun 2020, 06:37 PM IST

मुकेश शर्मा / जयपुर. जयपुर ग्रामीण पुलिस ने चाकसू से पानीपथ जा रही आइओसीएल की पाइप लाइन से क्रूड ऑयल चोरी करने वाले सरगना को दिल्ली से पकड़ा है। सरगना की निशानदेही से क्रूड ऑयल को औद्योगिक ईकाइयों में खपाने वाले सांझेदार को भी गिरफ्तार किया गया है। दोनों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है कि चोरी का क्रूड ऑयल खरीदने वालों के संबंध में पूछताछ की जा रही है।

पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि सरगना को पकडऩे में टीम के साथ शाहपुरा एसएचओ दीपक खंडेलवाल और साइबर सैल इंचार्ज रतनदीप की महत्वपूर्ण भूमिका रही। उन्होंने बताया कि अक्टूबर 2019 में शाहपुरा में हाइवे के नजदीक क्रूड ऑयल चोरी करने का मामला सामने आया था। आरोपियों ने हाइवे के नीचे जमीन में गहराई पर सुरंग बनाकर पाइप लाइन तक पहुंचे। यहां पर मेड इन जर्मनी का वॉल लगाकर तेल चोरी कर रहे थे।

10 मिनट में 20 हजार लीटर का टैंकर भरते

पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा ने बताया कि गैंग 10 मिनट में 20 हजार लीटर का टैंकर चोरी के क्रूड ऑयल से भर लेती। सरगना राशिद अपने टैंकरों से क्रूड ऑयल को पवन तक पहुंचाता था। फिर पवन क्रूड ऑयल को नोएडा, उत्तर प्रदेश और गुजरात तक पहुंचा था।

बाथरूम में बनी खिड़की में छिपा

a3.jpg

साइबर सैल की सूचना पर दिल्ली के उत्तम नगर निवासी सरगना राशिद के घर पुलिस टीम पहुंची। पहले उसके परिजनों ने गेट नहीं खोला। बाद में गेट खोला तो राशिद अंदर नहीं मिला। तलाशी में बाथरूम में बनी एक खिड़की में आरोपी छिपा मिला। उसकी निशानदेही से दिल्ली निवासी पवन को पकड़ा। पुलिस अधीक्षक शंकरदत्त शर्मा ने बताया कि राशिद का नाम क्रूड ऑयल चोरी के समय रंगे हाथ पकड़े गए आजाद उर्फ बब्बन मंसुरी से पूछताछ में सामने आया था।

यह भी पढ़ें : डेयरी के टैंकर से देशी घी निकाल मिला रहे थे पाम ऑयल, सात गिरफ्तार

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned