बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए पिता ने उठाया यह कदम, बिन्नी की डायरी को किया सार्वजनिक, आए चौंकाने वाले खुलासे

Pushpendra Singh Shekhawat | Publish: Sep, 11 2018 08:05:13 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

मुकेश शर्मा / जयपुर. आइआरएस बिन्नी शर्मा आत्महत्या प्रकरण में एक और चौकान्ने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस ने बिन्नी के दफ्तर की तलाशी ली। इसमें एक डायरी मिली, जिसमें बिन्नी ने आपबीती लिख रखी है। बिन्नी के पिता चन्द्र मोहन शर्मा मंगलवार को मीडिया से रू-ब-रू होते हुए बेटी बिन्नी द्वारा अलग-अलग दिनों में लिखी डायरी के पन्नों को साझा किया।

 

डायरी में लिखा है जीएसटी लागू होने पर दफ्तर में सब पार्टी में खुश हैं और मैं अकेली अपने कमरे में बैठ यह लिख रही हूं। शादी के बाद मेरा सब कुछ खत्म हो गया। अब खोने को कुछ नहीं है। पति और उसके परिवार वाले अब तो मुझे परेशान करना बंद कर दे। मेरे साथ धोखा हुआ है। उसे केवल पैसा और खुद की जिंदगी से मतलब है। उसने पति और पिता होने की कोई जिम्मेदारी नहीं निभाई। मैंने पति चुनने में गलती की या फिर उसने मुझे फंसाया। मुझे पता नहीं मैं कहां जा रही हूं। तथाकथित पति और उसका परिवार मेरे लिए अब नहीं रहा। पिता ने डायरी में लिखी बातों को बताते हुए कहा कि पति के कई महिलाओं से संबंध हैं। मेरी जिंदगी में बेहद उत्पात मचा रखा है। मैं बच्चों से खुश हूं। शराब पीकर मुझे मारा, बच्चों को प्रताडि़त किया। किसी को मेरी जिंदगी का आइडिया नहीं है और ना ही मैं किसी को बता सकती हूं।

 

गिरफ्तार क्यों नहीं किया, यह तो पुलिस बताए

आइआरएस बिन्नी शर्मा के पति आइएएएस गुरप्रीत वालिया को गिरफ्तार नहीं किए जाने पर पिता चन्द्र मोहन शर्मा ने कहा कि जमानत तो अभी मिली है। लेकिन इतनों दिनों तक पुलिस ने उसको गिरफ्तार क्यों नहीं किया, यह तो पुलिस ही बता सकती है। ईश्वर पर भरोसा है, मेरी बेटी को इंसाफ जरूर मिलेगा।

 

मैं जांच नहीं कर सकता, सबूत दिए

पिता चन्द्र मोहन शर्मा ने कहा कि वे खुद जांच एजेन्सी नहीं है। आरोपी गुरप्रीत वालिया के खिलाफ वे सबूत दे सकते हैं और एफआइआर दर्ज करान के तुरंत बाद पुलिस को कई सबूत भी दिए हैं। उनकी जांच पुलिस को करनी है। पुलिस से जब भी मिले, तब एक बात सुनने को मिली, हम कार्रवाई कर रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned