IRS बिन्नी शर्मा की अंत्येष्टि में नहीं आया पति, ऐसा क्या था जो बैडरूम तक में लगे थे CCTV कैमरे

IRS बिन्नी शर्मा की अंत्येष्टि में नहीं आया पति, ऐसा क्या था जो बैडरूम तक में लगे थे CCTV कैमरे

Santosh Kumar Trivedi | Publish: Aug, 08 2018 11:22:25 AM (IST) | Updated: Aug, 08 2018 11:26:51 AM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर। कस्टम विभाग की जीएसटी विंग में डिप्टी कमिश्रर आइआरएस बिन्नी शर्मा ने एजी कॉलोनी स्थित सरकारी आवास में पंखे पर चुन्नी के फंदे से लटक जान दे दी। आत्महत्या पूर्व अंग्रेजी में लिखे सुसाइड नोट में 'मैं मेरे जीवन को छोड़ रही हूं, इंडियन ऑडिट अकाउंट्स सर्विस (आइएएएस) पति गुरमीत बालिया और सास द्वारा 9 साल से बर्बाद और परेशान करने, भगवान उसके बच्चों का ध्यान रखे और अब वह और धोखे में नहीं रह सकती' लिखा था।

 

उधर, पत्नी शर्मा के सुसाइड करने की जानकारी सोमवार रात करीब 12 बजे चंडीगढ़ में कार्यरत पति गुरमीत को दी गई। तो पति ने अपने कुछ स्थानीय मातहमों को घटना का पता करने आवास पर जरूर भेजा, लेकिन खुद मंगलवार दोपहर एक बजे तक पहुंचने की बात कहते रहे, लेकिन बाद आए भी नहीं और मोबाइल भी बंद कर लिया। गुरमीत का मोबाइल बंद हो जाने के बाद में पीहर पक्ष ने डिप्टी कमिश्रर बिन्नी शर्मा की अंत्येष्टि करवा दी।

 

बजाज नगर थाने में इस संबंध में शाम तक कोई मामला दर्ज नहीं कराया गया था। उधर, सोमवार देर रात घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची बजाज नगर थाना पुलिस ने कमरे में टेबल पर रखा सुसाइड नोट जब्त किया और एफएसएल टीम से मौका मुआयना करवाया। पुलिस ने मंगलवार सुबह शव का जयपुरिया अस्पताल में पोस्टमार्टम करवा। फिर उसे पीहर पक्ष के सुपुर्द कर दिया। पुलिस का कहना है कि मामले में परिजन रिपोर्ट देते हैं तो आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

लेकिन परिजन मामला दर्ज नहीं कराते हैं तो पुलिस सबूतों के आधार पर अपने स्तर पर भी मामला दर्ज कर सकती है। गौर करने वाली बात है कि बिन्नी शर्मा के सरकारी आवास में सभी जगह सीसीटीवी कैमरे लगे थे, यहां तक की उनके बैडरूम तक सीसीटीवी कैमरा लगा था। परिजनों से पूछताछ के बाद ही इसका पता चलेगा कि आखिरकार बैडरूम तक सीसीटीवी कैमरे क्यों लगा रखे थे।

 

पुलिस, दफ्तर और परिचितों ने बताया कि मुम्बई में कार्यरत गुरमीत ने करीब ढाई साल पहले जयपुर में तबादला करवा लिया था। लेकिन पति-पत्नी में बनती नहीं थी। इसके चलते गुरमीत ने मार्च में अपना तबादला चंडीगढ़ करवा लिया। इधर, बिन्नी शर्मा की डिप्र्रेशन की दवाइयां भी चल रही थी। शर्मा के साथ उनकी मां मधु शर्मा, आठ वर्षीय पुत्र चाहत और दो वर्षीय पुत्र शुभम् रहते थे। सोमवार को दफ्तर भी नहीं गई और दोपहर से अपने कमरे में थी।

 

रात करीब साढ़े दस बजे मधु ने अपने अजमेर में रह रहे बेटे को फोन कर बिन्नी शर्मा के दरवाजा नहीं खोलने की जानकारी दी। अजमेर से बिन्नी के भाई अपने दोस्त को घर पर भेजा। इसके बाद दरवाजा तोड़ा गया तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। रात करीब साढ़े ग्यारह बजे पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस और एफएसएल ने मौका मुआयना किया। बिन्नी शर्मा का शव पंखे से चन्नी पर लटका था। शर्मा ने बैड पर मुढी रख पंखे से लटक गई। पुलिस ने बताया कि एफएसएल और पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सकों ने शव देख बिन्नी शर्मा के सोमवार अपराह्न ही फंदे पर लटने की संभावना जताई।

 

घटना के बाद परिजनों गम थे, इसके चलते उनसे पूछताछ नहीं की गई। परिजन रिपोर्ट दर्ज नहीं कराते हैं, तो पुलिस सबूतों के आधार पर खुद मामला दर्ज कर सकती है। सुसाइड नोट भी मिला है। बैडरूम में भी कैमरे लगे मिले हैं।
गौरव यादव, डीसीपी ईस्ट, जयपुर कमिश्ररेट

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned