21-22 जुलाई को चंद्रयान-2 लॉन्च करने की कोशिश में इसरो

21-22 जुलाई को चंद्रयान-2 लॉन्च करने की कोशिश में इसरो
chandrayaan

Nitin Sharma | Updated: 17 Jul 2019, 11:39:20 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

ISRO : संभावित लॉन्च को देखते हुए 18 जुलाई से लेकर 31 जुलाई तक किया गया अलर्ट जारी

बेंगलूरु। इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (ISRO) चंद्रयान-2 (chandrayaan) को जल्द से जल्द लॉन्च करने की कोशिश कर रहा है, ताकि उसे यान को चांद की कक्षा में नैविगेट कराने का वक्त मिल सके। माना जा रहा है कि इसरो (ISRO) 21 जुलाई या 22 जुलाई को एक बार फिर लॉन्च की तैयारी में है। गौरतलब है कि पहले लॉन्च 15 जुलाई को होना था, लेकिन क्रायोजनिक स्टेज पर ऐन मौके पर लीक होने से इसे टालना पड़ा। सूत्रों ने बताया है कि इंजीनियर खराबी को ठीक कर रहे हैं और स्पेस एजेंसी दो शेड्यूल्स पर ध्यान रख रही है। पहले 22 जुलाई की सुबह के बारे में विचार किया गया। अब ऐसी तैयारियां की जा रही हैं कि रविवार दोपहर को भी लॉन्च किया जा सके। हालांकि इसरो ने अभी इसका एलान नहीं किया है। एक सीनियर साइंटिस्ट ने इस बात की पुष्टि की है कि स्पेस एजेंसी सोमवार को लॉन्च की उम्मीद कर रही है।
हर लॉन्च में एक समय-सीमा होती है, जिसके अंदर वे नतीजे मिलने की संभावना होती है, जिनके लिए लॉन्च किया जा रहा है। 15 जुलाई को यह समय सबसे ज्यादा 10 मिनट का था, लेकिन इसरो के पास बाकी महीने में हर दिन एक मिनट का समय है। वैज्ञानिकों के मुताबिक 31 जुलाई तक लॉन्च न कर पाने की स्थिति में चंद्रयान (chandrayaan) के लिए ज्यादा ईंधन की जरूरत होगी। इसके अलावा फिलहाल चंद्रयान (chandrayaan) का लक्ष्य एक साल तक चांद का चक्कर लगाने का है, लेकिन सही समय पर लॉन्च न होने से यह वक्त छह महीने तक भी घट सकता है। संभावित लॉन्च को देखते हुए 18 जुलाई से लेकर 31 जुलाई तक दोपहर 2 बजे से लेकर 3:30 बजे तक के लिए अलर्ट जारी किया गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned