ग्रेटर नगर निगम में महापौर और पार्षदों में समन्वय बैठाएंगे नेताजी

2019 के महापौर चुनाव में हुई भाजपा पार्षदों की बगावत से बागी विष्णु लाटा महापौर बन गए थे। इस तरह की बगावत फिर नहीं हो, इसके लिए भाजपा जल्द ही एक नेताजी को महापौर और पार्षदों के बीच समन्वय बनाए रखने का जिम्मा देगी। साथ ही संगठन स्तर पर भी पार्षदों को बुलाकर उनसे बात की जाएगी।



By: Umesh Sharma

Published: 26 Dec 2020, 07:30 PM IST

जयपुर।

2019 के महापौर चुनाव में हुई भाजपा पार्षदों की बगावत से बागी विष्णु लाटा महापौर बन गए थे। इस तरह की बगावत फिर नहीं हो, इसके लिए भाजपा जल्द ही एक नेताजी को महापौर और पार्षदों के बीच समन्वय बनाए रखने का जिम्मा देगी। साथ ही संगठन स्तर पर भी पार्षदों को बुलाकर उनसे बात की जाएगी। भाजपा मुख्यालय पर शनिवार को हुई ग्रेटर और हैरिटेज नगर निगम की बैठक में इस पर सहमति बनी।

बैठक में राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री वी. सतीश और प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने पार्षदों से कहा कि मोदी के नाम पर आप लोग जीतकर आए हैं। प्रदेश में हमारी सरकार नहीं है, इसलिए शहरी सरकार में आप लोग ही पार्टी का फेस हो, इसलिए सेवाभाव के साथ काम करें। जनता की शिकायतों को सुनकर उनका निदान करें। हमें २०२३, २०२४ के चुनाव जीतने हैं और इसी संकल्प के साथ आपको काम करना है। बैठक में शहर अध्यक्ष राघव शर्मा, महापौर सौम्या गुर्जर, उप महापौर पुनील कर्णावट सहित ज्यादातर पार्षद मौजूद रहे। इसी दौरान पूर्ववर्ती भाजपा के बोर्ड में संवादहीनता की बात सामने आई तो सभी ने मिलकर तय किया कि संगठन स्तर पर एक नेताजी को नियुक्त किया जाएगा जो समन्वय का काम करेंगे।

नहीं तो कार्रवाई के लिए तैयार रहें

बैठक में नेताओं ने साफ किया कि आप सभी को पार्टी के निर्देशों का अक्षरश: पालन करना होगा। निर्देशों से इधर-उधर गए तो कार्रवाई के लिए तैयार रहें। पूनियां ने पार्षदों को कहा कि आपने वार्ड स्तर पर जो सोशल मीडिया पर ग्रुप बनाए हैं, उनमें संगठन के लोगों को भी जोड़ा जाए, ताकि हमें भी पता चल सके कि क्या काम हो रहा है।

शील धाभाई ने सौम्या गुर्जर की बात को काटा

प्रदेश में कांग्रेस की सरकार और ग्रेटर नगर निगम में भाजपा का बोर्ड होने की वजह से महापौर सौम्या गुर्जर ने बजट और अन्य कामों को लेकर बात की तो पूर्व महापौर शील धाभाई ने उनकी बात को काटा दिया। धाभाई ने कहा कि मेरे महापौर रहने के वक्त भी कांग्रेस की सरकार थी मगर सरकार ने हमें पूरा बजट दिया। कोई काम नहीं रोका गया।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned