scriptjaipue news JMC heritage and greater news | न जनता कि सुनी जा रही, न घोषणाओं पर हो रहा अमल | Patrika News

न जनता कि सुनी जा रही, न घोषणाओं पर हो रहा अमल

 

 

-4000 से अधिक शिकायतें तो अकेले ग्रेटर निगम में ही लंबित, निस्तारण होने की प्रक्रिया की गति बेहद धीमी

जयपुर

Updated: August 14, 2021 11:19:23 pm

जयपुर. राजधानी (Jaipur) का ग्रेटर नगर निगम (JMC Greter) समस्याओं के निस्तारण में फेल साबित हो रहा है। स्थिति यह है कि न तो स्ट्रीट लाइटें (Street Lights) लग पा रही हैं और न ही तय समय में वे सही हो पा रही हैं। रही सही कसर बदहाल सफाई व्यवस्था ने पूरी कर दी है। ग्रेटर नगर निगम में रोज घर—घर कचरा संग्रहण बढ़ती जा रही हैं क्योंकि इनके निस्तारण की गति बेहद धीमी है। यही वजह है कि करीब 4000 शिकायतें (Complains)तो अकेले ग्रेटर नगर निगम में ही लम्बित (Pending ) हैं। वहीं, हैरिटेज नगर निगम (JMC Heritage) में करीब 1300 शिकायतें (Complains) लम्बित (Pending ) हैं। इसके अलावा 29 जून को कार्यवाहक महापौर (Mayor) शील धाभाई (Sheel Dhabhai) ने निगम का खजाना भरने के लिए 15 जुलाई से छोटे से बड़े व्यापारियों से लेकर अस्पतालों और कोचिंग संस्थानों को लाइसेंस देने की बात कही थी, लेकिन अब तक एक पर भी अमल नहीं हुआ है।
jmc.jpg
वादे किए, अमल नहीं
निगम का राजस्व बढ़ाने के लिए ग्रेटर नगर निगम ने हॉस्टल पीजी (Hostel PG) पंजीयन नियम, निजी कोचिंग संस्थान (Private Coaching Institute) नियम, निजी चिकित्सालय (Private Hospital), नर्सिंग होम, पैथलेब नियम और तम्बाकू उत्पादों पर बिक्री नियम को 15 जुलाई से लाइसेंस प्रक्रिया देने का काम शुरू करना था, लेकिन अब तक इस पर कोई काम ही शुरू नहीं किया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.