दिवाली बाद से लौट रही जयपुर एयरपोर्ट पर रौनक, किराया भी 20 फीसदी हुआ कम

अनलॉक के दौर में पहली बार दिवाली बाद से जयुपर इंटदनेशनल एयरपोर्ट पर आने और जाने वाली उड़ानों की संख्या में साथ यात्रीभार में इजाफा हो रहा है।

By: santosh

Updated: 24 Nov 2020, 10:30 AM IST

जयपुर। अनलॉक के दौर में पहली बार दिवाली बाद से जयुपर इंटदनेशनल एयरपोर्ट पर आने और जाने वाली उड़ानों की संख्या में साथ यात्रीभार में इजाफा हो रहा है। एयरपोर्ट प्रबंधन के मुताबिक दिसंबर के पहले सप्ताह से रोजाना जयपुर एयरपोर्ट से 12 हजार से अधिक यात्रियों की आवाजाही होना शुरू हो जाएगी। इसका मुख्य कारण सैलानियों की आवाजाही और तेज सर्दी होने की वजह से लोग यात्रा के लिए हवाईयात्रा को अब बेहतर विकल्प मान रहे हैं। इसके साथ ही किराया भी 20 फीसदी तक कम हुआ है।

आठ हजार के पार पहुंचा आंकड़ां:
मुंबई, दिल्ली, बेंगलुरू, हैदराबाद, चेन्नई, कोलकाता आदि जगहों के लिए लोग सबसे ज्यादा हवाईयात्रा को तवज्जो दे रहे हैं। यही वजह है कि नवंबर के महीने में दिवाली के बाद से लगातार पांच हजार तक रहने वाला यात्रियों का आंकड़ा अब आठ हजार के आंकड़े को भी पार कर गया है। मई के बाद पहली बार सोमवार रात तक यहां से सबसे ज्यादा विमानों की आवाजाही हुई।

एयरपोर्ट से कुल 33 उड़ान का आगमन और 33 उड़ान का डिपार्चर हुआ। अनलॉक के शुरुआत में पहले दिन महज 8 उड़ान संचालित हुई थी, परंतु अब धीरे—धीरे इनमें इजाफा देखने को मिल रहा है। हालांकि पहले के मुकाबले न तो विंटर शेडयूल और नए रूट —इंटरस्टेट कनेक्टिविटी पूरी तरह से प्रभावी नहीं हो पाई है।

ऐसे बढ़ रहा यात्रीभार:

बीते दिन सोमवार को जयपुर से 33 उड़ानों से कुल 4693 यात्रियों ने उड़ान भरी। वहीं 33 उड़ानों से 3720 यात्री जयपुर पहुंचें। ऐसे में एक दिन में 66 उड़ानों से 8413 यात्रियों की आवाजाही एयरपोर्ट पर हुई। वहीं इससे पहले रविवार को 60 उड़ानों के आने— जाने से 8647 यात्रियों की आवाजाही जयपुर एयरपोर्ट पर हुई। 21 नवंबर को कुल 60 उड़ानों से 7805 यात्रियों की आवाजाही हुई। 20 नवंबर को कुल 59 उड़ानों से 7557 यात्रियों की आवाजाही हुई। 19 नवंबर को 64 उड़ानों से 7345 यात्रियों की आवाजाही हुई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned