गहलोत सरकार के राज में अपराधियों की राजधानी बनी जयपुर— पूनियां

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। पूनियां ने ट्वीट किया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के राज में जयपुर अब अपराधियों की राजधानी बन गई है।

By: Umesh Sharma

Published: 07 Sep 2020, 05:28 PM IST

जयपुर।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है। पूनियां ने ट्वीट किया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के राज में जयपुर अब अपराधियों की राजधानी बन गई है। अपराधियों के हौंसले बुलंद हैं, जनता भयभीत है। आज दिनदहाड़े जयपुर के विश्वकर्मा औद्योगिक क्षेत्र में पेट्रोल पम्प मालिक निखिल की हत्या ने जयपुर की पुलिसिंग व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था अब एक बड़ी चुनौती बन गई है। आए दिन पुलिस पर बजरी माफियाओं के हमले भी बढ़ते जा रहे हैं और लूट एवं हत्या की वारदातें भी लगातार बढ़ रही हैं। मुख्यमंत्री गहलोत गृहमंत्री भी हैं, उनको कानून व्यवस्था की गम्भीरता से समीक्षा करने की जरूरत है, जिससे अपराधों पर लगाम लगाया जा सके। पूनियां ने कहा कि वर्ष 2020 में जुलाई से अगस्त तक लूट के मामलों में 27 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है। अप्रेल से मई तक डकैती के मामलों में 60 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है, अप्रेल से मई तक हत्या के मामलों में 106 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में अपराधों का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है, लेकिन सरकार अपराधों को रोकने में विफल साबित हो रही है। दलित अत्याचारों में भी अप्रेल से मई तक 92 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है। दौसा, टोंक सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों में दलित अत्याचार एवं महिलाओं पर छेड़छाड़ के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं, लेकिन कांग्रेस सरकार अपराधों पर अंकुश लगाने में विफल साबित हो रही है।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned