दसवीं परीक्षा पास कराने के नाम पर किराएदार ने छात्रा को बनाया शिकार, फोटो खींचकर 15 महीने किया शोषण

दसवीं परीक्षा पास कराने के नाम पर किराएदार ने छात्रा को बनाया शिकार, फोटो खींचकर 15 महीने किया शोषण

Pushpendra Singh Shekhawat | Updated: 15 Sep 2019, 08:10:26 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

जयपुर के सांगानेर थाने का मामला, पढ़ाने का झांसा देकर पड़ोसी किराएदार ने नाबालिग से किया बलात्कार, अश्लील फोटो लेकर जगह—जगह बुलाकर करता था दुष्कर्म

जयपुर. सांगानेर थाना इलाके में दसवीं कक्षा में सप्लीमेंट्री आने पर एक पड़ोसी किराएदार द्वारा नाबालिग बच्ची को पढ़ाने का झांसा देकर बलात्कार करने का मामला सामने आया है। पुलिस मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश में जुट गई है।


पुलिस ने बताया कि 17 वर्षीय छात्रा के पिता ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है। वर्ष 2018 में वह एक किराए के मकान में रहता था। वहीं पर आरोपी युवक भी रहता था। जून में बच्ची का दसवीं का रिजलट आया तो उसकी एक विषय में सप्लीमेंट्री आई। पढ़ाई करवाने के नाम पर आरोपी ने छात्रा के साथ बलात्कार किया और अश्लील फोटो खींच लिए, जिनको सार्वजनिक करने की धमकी देकर वह लगातार बलात्कार करता रहा। फरवरी 2019 में किराए का कमरा खाली कर गणेश विहार, श्योपुर में मकान लेकर शिट हो गए। इसके बाद आरोपी ने बच्ची को मोबाइल दे दिया और गोशाला के पास अपने दोस्त के कमरे पर ले जाकर बलात्कार करता रहा।


यूं चला घटना का पता
थानाधिकारी लखन सिंह खटाना ने बताया कि नाबालिग पीडि़ता के साथ बलात्कार का सिलसिला पंद्रह माह से लगातार चला आ रहा था। 11 सितबर को जब स्कूल प्रिंसिपल ने पिता को फोन कर बुलाया और कहा कि आपकी बच्ची को आगे नहीं पढ़ा सकते, आप यहां से ले जाइए। कारण पूछा तो मालूम चला कि सोमवार के दिन बच्ची दो लड़कों के साथ बाइक पर घूम रही थी। जब पिता ने घर आकर सख्ती से पूछा तो पीडि़ता ने बताया कि आरोपी का दोस्त मिला जो कि एक मकान में आरोपी युवक के पास ले गया, वहां उसने बलात्कार किया और दिन में एक बजे मामा के घर के पास छोड़ दिया। उसके बाद पीडि़ता ने जून 2018 से अब तक की सारी घटना पिता को बताई। इसके बाद मामला दर्ज करवाया।

यह भी पढ़ें : सात महीने की ईशानी का जयपुर में हुआ सफल ऑपरेशन, एसएमएस अस्पताल के डॉक्टर्स का करिश्मा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned