सावधान! चाबी बनाने वलों के वेश में घूम रहे शातिर, निगाह बचाकर पार कर ले जाते नगदी-जेवरात

सावधान! चाबी बनाने वलों के वेश में घूम रहे शातिर, निगाह बचाकर पार कर ले जाते नगदी-जेवरात

Deepshikha | Publish: May, 17 2019 04:45:42 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

सोडाला थाना इलाके की घटना

जयपुर.सोडाला थाना इलाके में अलमारी की चाबी बनाने आए दो बदमाशों ने चाबी बनाने का नाटक करते हुए शातिर तरीके से साठ हजार रुपए और 186000 रुपए का हार चुराकर ले गए। पुलिस ने बताया कि हरिमार्ग सिविल लाइंस निवासी देवेन्द्र कुमार कुलश्रेष्ठ ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है कि उनकी दो अलमारियों की चाबी खो गई थी। 15 दिन पहले गली में ताला चाबी ठीक करने वाले आवाज लगाते हुए दो व्यक्ति आए। पीड़ित ने उन्हें घर बुला लिया। एक व्यक्ति चाबी बनाने लग गया। थोड़ी देर बाद उसने बोला कि वह कल आएगा उसके पास औजार नहीं है। अगले दिन आकर उसने अलमारी की चाबी बना दी।

पीड़ित उसे अंदर एक और अलमारी दिखाई। व्यक्ति ने अलमारी खोल दी और फिर अंदर लॉकर खोलने लगा। थोड़ी देर बाद उस व्यक्ति ने अलमारी में कुछ फंसाकर कहा कि इसमें कुछ फंस गया है। दो घंटे में आने की कहकर वहां से चला गया। काफी दिनों बाद तक जब वह व्यक्ति नहीं आया तो पीडि़त ने 16 मई को सोडाला से ताला खोलने वाले को लेकर घर गया। उसने ताला खोला तो पता चला कि पर्स में साठ हजार रुपए और लॉकर में रखा हार गायब था।

पीडि़त ने बताया कि दोनों व्यक्तियों ने अलमारी के ताले में चाबी तोड़कर कुछ फंसा गए। दोनों तालों में टूटी हुई चाबी के टुकड़े फंसे मिले। पीडि़त ने बताया कि दोनों व्यक्तियों में एक सरदार था।


इधर कैंटर गाड़ी से चोरों ने दवाइयों के 35 कार्टून चुराए

इधर विश्वकर्मा थाना इलाके में दवाई कंपनी के बाहर खड़े दवाइयों से भरे कैंटर गाड़ी से चोरों ने 35 कार्टून चुरा लिए। पुलिस ने बताया कि बागपत उत्तरप्रदेश निवासी पदम सिंह ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है कि वह 15 मई को सुबह 10.30 बजे कैंटर गाड़ी में हरिद्वार से दवाई के कार्टून भरकर जयपुर के लिए रवाना हुआ था। रात 12.30 बजे रोड नंबर 8 विश्वकर्मा स्थित सिपला कंपनी पहुंच गया। पीडि़त कंपनी के बाहर गाड़ी खड़ी करके उसके अंदर सो गया। सुबह छह बजे जब पीडि़त उठा तो देखा गाड़ी के तिरपाल रस्से को काटकर 30-35 कार्टून कोई चुरा ले गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned