एसएमएस अस्पताल में डेंगू के 200 से ज्यादा मरीज

जयपुर में प्रतिदिन आ रहे हैं 5 से 8 मरीज

By: Mohan Murari

Published: 24 May 2018, 02:14 PM IST

इलाज करने वाले चिकित्सक भी सकते में, बारिश नहीं फिर भी डेंगू बेकाबू कैसे
जयपुर। प्रदेश का चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग प्रदेश में मौसमी बीमारियों को नियंत्रण में बता रहा है, लेकिन अकेले एसएमएस अस्पताल में ही प्रतिदिन 5 से 8 मरीज डेंगू के भर्ती हो रहे है। एसएमएस अस्पताल में डेंगू के 200 से ज्यादा मरीज भर्ती हो चुके है। एसएमएस अस्पताल में डेंगू के मरीजों के इलाज में जुटे चिकित्सक सकते में हैं कि भीषण गर्मी के दौर में भी आखिर डेंगू का लार्वा पनप कैसे रहा है।
हर रोज 5 से 8 मरीज
एसएमएस अस्पताल के मेडिसिन आउटडोर और मेडिसिन विभाग में प्रतिदिन 5 से 8 मरीज डेंगू के भर्ती हो रहे है। भर्ती मरीजों को प्लेटलेट और ब्लड चढा कर और जरूरी दवाईयां देकर उनका उपचार किया जा रहा है। अस्पताल प्रशासन के अनुसार एसएमएस अस्पताल में ही डेंगू के 200 से ज्यादा मरीज सामने आ चुके है। हांलाकि इनमें से लगभग सभी सभी मरीज इलाज के बाद स्वस्थ्य होकर छुटटी कर दी गई है।
दूसरी ओर एसएमएस अस्पताल के मेडिसिन विभाग के वरिष्ठ चिकित्सक सकते में हैं कि अभी बारिश भी नहीं हो रही हे और कहीं बारिश का पानी नहीं है। ऐसे में डेंगू के मरीजो का आउटडोर और भर्ती होने का सिलसिल जारी है। चिकित्सकों का कहना है कि डेंगू के मरीज बारिश के मौसम में सबसे ज्यादा आते हैं लेकिन इस बार मौसमी बीमारियों का सीजन शुरू होने के कई महीनों पहले ही डेंगू के मरीज सामने आ रहे है।
हर महीने लगभग 40 मरीज
एसएमएस अस्पताल में अगर जनवरी से लेकर अब तक का रिकार्ड देखें तो हर महीने करीब 40 मरीज डेंगू के भर्ती हुए है। एसएमएस अस्पताल प्रशासन के अनुसार जनवरी में 39, फरवरी में 11, मार्च में 39,अप्रेल में 53 मरीज डेंगू के भर्ती हुए है।
इस महीने 22 दिन में ही 40 मरीज अस्पताल में पहुंच चुके हैं। प्रदेश में डेंगू के कहर का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मई माह में 22 दिन में ही एसएमएस अस्पताल में डेंगू के 40 मरीज भर्ती हो चुके हैं यानि हर दिन दो मरीज डेंगू के एसएएमस अस्पताल में भर्ती हुए।

Mohan Murari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned