क्रेडिट कार्ड एक्टिवेट करवाने की कह युवक से हड़पे आठ लाख रुपए, बैंक प्रतिनिधि घर पहुंचे तो पीड़ित के उड़े होश

Crime Updates: युवक ने इस्तगासे से करवाया मामला दर्ज, बैंक प्रतिनिधि जब युवक के घर पहुंचे और क्रेडिट कार्ड से निकाली गई राशि जमा करवाने को कहा तो धोखाधड़ी का पता चला

 

By: Deepshikha Vashista

Published: 08 Dec 2019, 03:25 PM IST

अविनाश बाकोलिया / जयपुर. क्रेडिट कार्ड बनाकर उसे एक्टिवेट करने के नाम पर युवक से आठ लाख इक्कीस रुपए हड़पने का मामला सामने आया है। बैंक प्रतिनिधि जब युवक के घर पहंचे और क्रेडिट कार्ड से निकाली गई राशि जमा करवाने को कहा, तब धोखाधड़ी का पता चला। इस संबंध में खातीपुरा निवासी सुनील चौधरी ने इस्तगासे के जरिए रिपोर्ट दर्ज करवाई है। रिपोर्ट के अनुसार पीड़ि़त के दोस्त आमेर निवासी ओमप्रकाश और मानसरोवर निवासी सुनील ने पीड़ि़त से कहा उनके पास विभिन्न बैंकों के क्रेडिट कार्ड बनाने की फ्रेंचाइजी है आपके भी क्रेडिट कार्ड बना देते हैं। इस पर पीडि़त ने विभिन्न बैंकों के कार्ड बनवा लिए।

ये भी पढ़ें : महिला को सरकारी टीचर लगाने के नाम पर छह लाख रुपए की ठगी


कुछ दिन बाद पीड़ित को कार्ड डाक के जरिए मिले। पीड़ित के दोस्त उसके घर आए और एक्टिवेट करवाने की बात कहकर कार्ड को ले गए। इसके बाद पीड़ित बार-बार कार्ड मांगता रहा, लेकिन वे दोनों कार्ड एक्टिव नहीं होने की बात कहकर टालते रहे। कुछ दिन बाद बैक कर्मचारी पीड़ित के घर आए और उन्होंने के्रडिट कार्ड से जो राशि उपयोग में ली है उसे जमा करवाने को कहा। पीड़ित सन्न रह गया। उसने बैंक कर्मचारियों को क्रेडिट कार्ड उसके पास नहीं होने की जानकारी दी। बैंक कर्मचारी ने बताया कि तीन अलग अलग क्रेडिट कार्ड से करीब आठ लाख रुपए निकाले गए हैं। पीड़ित ने जालसाजों से जब राशि जमा करवाने को कहा तो उन्होंने पहले तो ब्याज सहित रुपए जमा करवाने का झांसा दिया बाद में दोनों ने मना कर दिया। अखिर पीड़ित ने आरोपितों के खिलाफ इस्तगासे के जरिए मामला दर्ज करवाया है।

ये भी पढ़ें : मदद के बहाने बदला एटीएम कार्ड, खाते से पार किए 90 हजार

Deepshikha Vashista
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned