73 दिन बाद दर्शनार्थियों के लिए खुलेंगे शहर के मंदिर

सरकार से छूट मिलने के बाद शहर के आराध्य गोविंददेवजी मंदिर (Govinddevji Temple), मोती डूंगरी गणेशजी (Moti Dungri Ganeshji Temple) सहित प्रमुख मंदिर करीब 73 दिन बाद फिर से दर्शनार्थियों के लिए सोमवार को खुलेंगे (temples will open)। श्रद्धालु कोरोना गाइडलाइन की पालना के साथ ठाकुरजी के दर्शन कर सकेंगे। इससे पहले रविवार शाम को जिला कलेक्टर अंतरसिंह नेहरा सहित पुलिस अधिकारियों ने व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। इसके बाद मंदिर प्रबंधकों ने दर्शनार्थियों के लिए मंदिर खोलने का निर्णय लिया।

By: Girraj Sharma

Published: 27 Jun 2021, 11:14 PM IST

73 दिन बाद दर्शनार्थियों के लिए खुलेंगे शहर के मंदिर
— गोविंददेवजी, मोती डूंगरी गणेशजी मंदिर श्रद्धालुओं के लिए खुलेंगे
— गोविंददेवजी मंदिर के मंगला और शाम की झांकियों में प्रवेश रहेगा बंद

जयपुर। सरकार से छूट मिलने के बाद शहर के आराध्य गोविंददेवजी मंदिर (Govinddevji Temple), मोती डूंगरी गणेशजी (Moti Dungri Ganeshji Temple) सहित प्रमुख मंदिर करीब 73 दिन बाद फिर से दर्शनार्थियों के लिए सोमवार को खुलेंगे (temples will open)। श्रद्धालु कोरोना गाइडलाइन की पालना के साथ ठाकुरजी के दर्शन कर सकेंगे। इससे पहले रविवार शाम को जिला कलेक्टर अंतरसिंह नेहरा सहित पुलिस अधिकारियों ने व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। इसके बाद मंदिर प्रबंधकों ने दर्शनार्थियों के लिए मंदिर खोलने का निर्णय लिया।

शहर के आराध्य गोविंददेवजीजी मंदिर में भक्त मंगला झांकी में दर्शन नहीं कर सकेंगे। धूप झांकी में सुबह 7.45 बजे से भक्त ठाकुरजी के दर्शन कर सकेंगे। इसके बाद शृंगार व राजभोग झांकी तक सुबह 11.30 बजे तक दर्शन करने की छूट रहेगी। हालांकि मंगला झांकी के अलावा शाम को ग्वाल, संध्या और शयन झांकी में दर्शनार्थियों के प्रवेश पर पाबंदी रहेगी। मंदिर में कुल दस लाइनों के जरिए भक्त बैरिकेडिंग में दर्शन करेंगे। जगमोहन में प्रवेश निषेध रहेगा, परिक्रमा नहीं लगा पाएंगे।

मोती डूंगरी गणेशजी भी भक्तों के लिए खुलेगा
शहर के मोती डूंगरी गणेशजी मंदिर भक्तों के लिए सुबह 5 बजे से शाम चार बजे तक दर्शनार्थियों के लिए खुला रहेगा। दिनभर भक्त अपने प्रथम पूज्य के दर्शन कर सकेंगे। मंदिर महंत कैलाश शर्मा ने बताया कि जिला कलेक्टर ने दौरा कर व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। इसके बाद दर्शनार्थियों के लिए मंदिर खोलने का निर्णय लिया गया। मंदिर में तीन लाइनों के जरिए भक्तों का प्रवेश रहेगा। कोरोना गाइडलाइन की पालना के साथ भक्त गजानन महाराज के दर्शन कर सकेंगे।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned