सड़क पर मिला बुजुर्ग, महापौर ने रैन बसेरे में पहुंचाया

नगर निगम ने शहर में रैन बसेरे (Night shelters) शुरू कर दिए है, लेकिन कुछ लोग अभी भी खुले में रात बिताने को मजबूर है। महापौर मुनेश गुर्जर ने मंगलवार देर शाम रैन बसेरों का दौरा किया। इस दौरान एक बुजुर्ग सड़क पर सोते हुए मिला, महापौर ने बुजुर्ग को उठाकर रैन बसेरे तक लाई और उसे रैन बसेरे में ठहराया। इस दौरान महापौर मुनेश ने रैन बसेरे में कंबल भी बांटे।

By: Girraj Sharma

Updated: 01 Dec 2020, 09:53 PM IST

सड़क पर मिला बुजुर्ग, महापौर ने रैन बसेरे में पहुंचाया

— महापौर मुनेश ने किया रैन बसेरों का दौरा, बांटे कंबल
— कुछ रैन बसेरों में थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था नहीं मिली

जयपुर। नगर निगम ने शहर में रैन बसेरे (Night shelters) शुरू कर दिए है, लेकिन कुछ लोग अभी भी खुले में रात बिताने को मजबूर है। महापौर मुनेश गुर्जर ने मंगलवार देर शाम रैन बसेरों का दौरा किया। इस दौरान एक बुजुर्ग सड़क पर सोते हुए मिला, महापौर ने बुजुर्ग को उठाकर रैन बसेरे तक लाई और उसे रैन बसेरे में ठहराया। इस दौरान महापौर मुनेश ने रैन बसेरे में कंबल भी बांटे। रैन बसेरों में थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था नहीं मिली, इस पर अधिकारियों को थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

महापौर मुनेश ने हसनपुरा हटवाड़ा स्थित वृद्धाश्रम भवन, बाल बसेरा सहित रेलवे स्टेशन रैन बसेरा का दौरा किया। इस दौरान आसपास लोग सड़क पर सोते हुए मिले, जिन्हें महापौर ने रैन बसेरों में पहुंचाया। महापौर को तीनों रैन बसेरों में थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था नहीं मिली। इस पर अधिकारियों को थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था तत्काल करने के निर्देश दिए। इस दौरान महापौर ने मास्क भी बांटे।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned