शहर में अस्थाई रैन बसेरे शुरू

सर्दी की दस्तक के साथ ही शहर में अस्थाई आश्रय स्थल (रैन बसेरे) (Night shelters) तैयार होने शुरू हो गए हैं। नगर निगम (municipal Corporation) ने शुक्रवार को शहर में तीन अस्थाई रैन बसेरे शुरू कर दिए हैं। ये रैन बसेरे जेएलएन मार्ग पर रामनिवास बाग पास और जेकेलोन अस्पताल के पास बनाए गए हैं, इसके अलावा एक रैन बसेरा खासा कोठी पुलिया के पास तैयार करवाया है।

By: Girraj Sharma

Updated: 15 Nov 2019, 07:42 PM IST

शहर में अस्थाई रैन बसेरे शुरू

- नगर निगम ने 3 रैन बसेरे किए चालू

जयपुर। सर्दी की दस्तक के साथ ही शहर में अस्थाई आश्रय स्थल (रैन बसेरे) (Night shelters) तैयार होने शुरू हो गए हैं। नगर निगम (municipal Corporation) ने शुक्रवार को शहर में तीन अस्थाई रैन बसेरे शुरू कर दिए हैं। ये रैन बसेरे जेएलएन मार्ग पर रामनिवास बाग पास और जेकेलोन अस्पताल के पास बनाए गए हैं, इसके अलावा एक रैन बसेरा खासा कोठी पुलिया के पास तैयार करवाया है। बेघरों के लिए इन्हंे खोल दिया गया है। वहीं नगर निगम 13 रैन बसेंगे एक दिसम्बर से चालू करेगा।

बेघर लोगों को सर्दी में राहत देने और रात्रि विश्राम के लिए शहर के 16 स्थानों पर अस्थायी रैन बसेरे तैयार करवाए जा रहे हैं। इसमें रामनिवास बाग और जेकेलोन अस्पताल के पास के अलावा खासा कोठी पुलिया के पास रैन बसेरों को शुरू कर दिया है। पहले दिन रैन बसेरों में काफी कम लोग पहुंचे हैं। निगम ने इन रैन बसेरों में एक-एक सुरक्षा गार्ड तैनात किया है। वहीं बिस्तरों के अलावा पानी व रोशनी की सुविधा उपलब्ध कराई है। रामनिवास बाग के पीछे बने रैन बसेरे में 150 लोगों के ठहरने की व्यवस्था की गई है। वहीं जेकेलोन अस्पताल के पास और खासा कोठी पुलिया के पास तैयार हुए रैन बसेरों में 100-100 लोगों के ठहरने की व्यवस्था की गई है। तीनों रैन बसेरों में महिलाओं और पुरुषों के लिए अलग-अलग कम्पार्ट तैयार किए गए हैं।

नगर निगम उपायुक्त अनिता मित्तल ने बताया कि तीन रैन बसेरे शुरू कर दिए गए हैं। इनमें करीब 350 लोगों के ठहरने की व्यवस्था की गई है। अब 13 रैन बसेरे एक दिसम्बर से शुरू किए जाएंगे। इन्हें बनाने का काम शुरू कर दिया गया है। ये रैन बसेरे रेलवे स्टेशन, बस स्टेैण्ड, अस्पताल, शहर के प्रमुख फ्लाईओवर सहित उन स्थानों पर बनाए जा रहे है, जहां बड़ी संख्या में गरीब लोग रात में सडक़ों पर सोते हैं या दूर दराज से कामकाज की तलाश में जयपुर आते हैं।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned