राजधानी जयपुर में बंद मंदिरों के बाहर भक्तों की कतार, ऐसे हो रही पूजा अर्चना

pushya nakshatra 2020: आषाढ़ शुक्ल तृतीया बुधवार को पुष्य नक्षत्र के मौके पर शहर गणेश मंदिरों में भगवान गणेश का पंचामृत अभिषेक किया गया। मंदिरों में जहां धार्मिक अनुष्ठान हो रहे थे, वहीं दूसरी तरफ लॉकडाउन के कारण मंदिरों के द्वार बंद होने से भक्तों को मंदिर के सामने फुटपाथ पर बैठकर ही पूजा करनी पड़ी। शादियों के चलते कई लोग गणेश मंदिरों में प्रथम पूज्य को शादी का निमंत्रण देने , तो कुछ नए वाहन की पूजा करवाने के लिए आए। लेकिन मंदिरों में प्रवेश नहीं मिलने पर लोगों को सड़क पर ही पूजा करनी पड़ी।

By: Devendra Singh

Published: 24 Jun 2020, 06:50 PM IST

जयपुर। आषाढ़ शुक्ल तृतीया बुधवार को पुष्य नक्षत्र के मौके पर शहर गणेश मंदिरों में भगवान गणेश का पंचामृत अभिषेक किया गया। मंदिरों में जहां धार्मिक अनुष्ठान हो रहे थे, वहीं दूसरी तरफ लॉकडाउन के कारण मंदिरों के द्वार बंद होने से भक्तों को मंदिर के सामने फुटपाथ पर बैठकर ही पूजा करनी पड़ी। शादियों के चलते कई लोग गणेश मंदिरों में प्रथम पूज्य को शादी का निमंत्रण देने , तो कुछ नए वाहन की पूजा करवाने के लिए आए। लेकिन मंदिरों में प्रवेश नहीं मिलने पर लोगों को सड़क पर ही पूजा करनी पड़ी। राजधानी जयपुर के मोतीडूंगरी गणेशजी के मंदिर के आस-पास फुटपाथ पर यह अनोखा नजारा सुबह देखने को मिला। शायद यह पहला मौका होगा जब भक्तों को निमंत्रण देने के लिए प्रथम पूज्य के विग्रह के समक्ष जाने का मौका नहीं मिला। मजबूरन लोगों को फुटपाथ पर ही पूजा-अर्चना कर प्रथम पूज्य को शादी का निमंत्रण देना पड़ा। भक्तों ने फुटपाथ पर बैठकर भगवान गणेश का ध्यान कर विधिवत पूजा-अर्चना की और प्रथम पूज्य के नाम से अगरबत्ती जला कर फूलमाला व प्रसाद चढ़ाकर निविघ्न कार्य संपन्न होने की कामना की। फुटपाथ पर पूजा करने वालों की कतारें देखने को मिली।

नहीं हो सकी वाहनों की पूजा
पुष्य नक्षत्र होने से आज नए वाहनों की खरीदारी भी जम कर हुई। लोग वाहन लेकर गणेश मंदिर गए भी लेकिन, उन्हें निराशा ही हाथ लगी। सरकारी एडवाइजरी की पालना में मंदिर के पट होने से वाहनों की पूजा नहीं हो सकी। लोगों ने मंदिर के पास वाहनों को ले जाकर पूजा की और भगवान गणेश से मंगल की कामना की।

Devendra Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned