रोड हटाने और बनाए रखने में फंसा जेडीए

जोन-19 के 90 मीटर की सेक्टर रोड बनी जेडीए के लिए मुसीबत

 

-कोर्ट के आदेश के बाद बढ़ी जेडीए की मुश्किल

By: Ashwani Kumar

Published: 17 Oct 2020, 06:16 PM IST

जयपुर. पृथ्वीराज नगर के जोन-19 में 90 मीटर की रोड हटाए जाने और बनाए रखने के मामले में जेडीए खुद ही फंस गया है। हाईकोर्ट के आदेश के बाद जेडीए की मुश्किलें और बढ़ गई है। हाईकोर्ट ने 23 जुलाई के आदेश में साफ कहा है कि इस 90 मीटर की सड़क का बिल्डिंग प्लान कमेटी की बैठक में एजेंडा लाकर जेडीए फैसला करे। इसके लिए जेडीए को कोर्ट ने छह माह का समय दिया है।
सूत्रों की मानें तो सेक्टर प्लान की सड़क होने के बाद भी रसूखदार को फायदा पहुंचाने के लिए यहां जोनल प्लान में एक सड़क और बना दी गई। पुरानी और नई सड़क आगे जाकर एक ही सड़क में जाकर मिल रही हैं।

जेडीए की गलती: जो सड़क बाद में प्रस्तावित की गई, जेडीए ने उसको पहले बनवा दिया। पहले से सेक्टर प्लान में सड़क प्रस्तावित रोड का मामला कोर्ट में चल रहा था। एक पक्ष ने उस पर स्टे ले रखा था। इस वजह से जेडीए ने उसका इंतजार नहीं किया, उस सड़क की जगह को छोड़ दिया।

ये बड़ी मुसीबत:
-जिस 90 मीटर की सड़क को लेकर विवाद है, उसको लेकर जेडीए ने अब तक कोई निर्णय नहीं किया है। जेडीए रोड को हटा नहीं सकता। यदि सड़क को हटाने का काम किया तो यह मास्टर प्लान की अवहेलना होगी। ऐसे में पुराने अधिकारियों की गलती का खामियाजा मौजूदा अधिकारियों को भुगतना पड़ रहा है।


वर्जन...
इस प्रकरण को लेकर पृथ्वीराज नगर के अतिरिक्त आयुक्त की अध्यक्षता में एक जांच कमेटी बनाई गई है। कमेटी उच्च न्यायालय के आदेश के अनुरूप परीक्षण करके रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। इसमें टाउन प्लानिंग और इंजीनियरिंग शाखा के अधिकारी शामिल किए गए हैं। 90 मीटर की रोड पर अभी तक कोई निर्णय नहीं किया गया है। दोनों पक्षों को सुनकर ही निर्णय लिया जाएगा।
-गौरव गोयल, आयुक्त, जेडीए

Ashwani Kumar Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned