Good News : जयपुर में अब नहीं रहेगी पेयजल समस्या, 100 की जगह मिलेगा 135 लीटर पानी प्रतिदिन

जयपुर के परकोटे में दूर होगी पानी की समस्या, जलदाय विभाग ब्रहम्पुरी में बनाएगा 50 लाख लीटर क्षमता का स्वच्छ जलाशय, हवामहल,किशनपोल और आदर्श नगर क्षेत्र की 2 लाख से ज्यादा की आबादी होगी लाभान्वित, शहर के अन्य इलाकों की तरह सुबह—शाम हो सकेगी पेयजल सप्लाई

By: pushpendra shekhawat

Updated: 21 Jun 2021, 05:55 PM IST

पुनीत शर्मा / जयपुर। परकोटा क्षेत्र में हवामहल,आमेर और आदर्श नगर विधान सभा क्षेत्र में लोग कम दबाव और कम पानी मिलने की समस्या से परेशान हैं। अगर सब कुछ ठीक रहता है तो आगामी जून के बाद जलदाय विभाग परकोटा में इन क्षेत्रों की दो लाख से ज्यादा की आबादी में प्रत्येक व्यक्ति को वर्तमान में 100 की जगह 135 लीटर पानी प्रतिदिन उपलब्ध होगा।

इसके लिए जलदाय विभाग ब्रहम्पुरी में 50 लाख लीटर की क्षमता का स्वच्छ जलाशय का निर्माण करने की तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। स्वच्छ जलाशय निर्माण के बाद आमेर विधान सभा क्षेत्र की पेयजल समस्या का भी समाधान हो जाएगा।

पानी के लिए जागते हैं पूरी रात,फिर भी कम पानी
परकोटे में रामनिवास बाग से पेयजल कई टुकडों में पेयजल सप्लाई होती है। अधिकारियों के अनुसार बासबदनपुरा में रात 9 बजे, पुरानी बस्ती,तोपखाना देश में सुबह 4 बजे, ब्रहमपुरी क्षेत्र में दोपहर 12 बजे, चौकडी मोदी खाना विश्वेशर में शाम 4 बजे पेयजल सप्लाई होती है। इस स्थिति में परकोटा क्षेत्र के लोग एक बाल्टी पानी के लिए रात भर जागरण करते हैं। इस इंतजार के बाद पानी भी उतना नहीं मिलता कि उससे पेयजल की जरूरतें भी पूरी हो जाएं।

50 लाख लीटर का स्वच्छ जलाशय बनने पर ये होगा फायदा
- डेढ की जगह दो घंटे तक होगी पेयजल सप्लाई
- कम दबाव से पानी की समस्या खत्म होगी
- शहर के अन्य इलाकों की तरह पेयजल सप्लाई सुबह—शाम हो सकेगी
- रामनिवास बाग पंप हाउस के चौबीसों घंटे संचालन से राहत मिलेगी


यह रहेगी स्वच्छ जलाशय निर्माण की योजना
- स्चच्छ जलाशय तीन करोड से ज्यादा लागत में तैयार होगा
- जुलाई के पहले सप्ताह में स्व्चछ जलाशय का निर्माण कार्य शुरू होगा
- पेयजल व्यवस्था सुधरने के साथ ही जर्जर पेयजल लाइनों को भी दुरुस्त किया जाएगा
- आगामी जून तक निर्माण कार्य पूरा करने की योजना

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned