जान बचाने के लिए जयपुर के इन पुलिसवालों ने दांव पर लगा दी नौकरी.... अब तारीफ हो रही

उसी रात थानाधिकारी को एक निजी अस्पताल से फोन आया और फोन करने वाले चिकित्सकों ने लोगों की जान बचाने की दुआई देते हुए सिलेंडर मांगे।

By: JAYANT SHARMA

Updated: 03 May 2021, 12:05 PM IST

जयपुर
राजधानी जयपुर में अनोखा मामला सामने आया है। किसी की जान बचाने के लिए पुलिस ने नियम कायदों को ताक पर रख दिया और अपने अफसरों की मदद से कई लोगों की जान बचा ली। दरअसल पूरा मामला शिप्रापथ थाना क्षेत्र से है।

दो दिन पहले थाना पुलिस ने आॅक्सीजन सलेंडर्स की कालाबजारी करने वाले गिरोह को पकडा था और उनके पास से करीब दो दर्जन से भी ज्यादा आॅक्सीजन सलेंडर बरामद किए थे। उसके बाद जब्ती दिखाकर सलेंडर मालखाने में रखवाए और आरोपियों को हवालात में बंद कर दिया। लेकिन उसी रात थानाधिकारी को एक निजी अस्पताल से फोन आया और फोन करने वाले चिकित्सकों ने लोगों की जान बचाने की दुआई देते हुए सिलेंडर मांगे।

शिप्रापथ थानाधिाकरी ने अपने अफसरों को इसकी सूचना दी और उसके बाद अफसरों से ग्रीन सिग्नल मिलने के बाद आॅक्सीजन से भरे हुए ये सलेंडर निजी अस्पताल में भर्ती मरीजों की जान बचाने के काम आए। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान मेडिकल विभाग से जुड़े अफसरों को भी जानकारी दी गई।

गौरतलब है कि इस पूरी घटना के बाद चोरी या कालाबजारी में जब्त आॅक्सीजन सलेंडर, इंजेक्शन या अन्य जान बचाने वाले उपकरणों एवं दवाओं के बारे में एसओपी बनाने की प्रक्रिया शुरु कर दी गई है। जिससे माल बरामद होने के तुंरत बाद उसे बिना ज्यादा कागजी कार्रवाई के काम में लिया जा सके। प्रदेश में अपने तरह का यह पहला ही मामला सामने आया है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned