जयपुर में दस साल के बच्चे का अपहरण, बच्चे को जबरन नींद की गोली खिलाने का प्रयास

घर आकर जब वह रोने लगा तब जाकर परिजनों को पूरे घटनाक्रम का पता चला। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और आरोपियों की तलाश कर रही है।

By: JAYANT SHARMA

Updated: 13 Oct 2021, 05:38 PM IST

जयपुर। जयपुर में बच्चों का अपहरण करने वाला गिरोह सक्रिय है। इस गिरोह ने पिछले कुछ दिनों में कई बच्चों का अपहरण कर लिया और उनकी तलाश अभी तक भी पुलिस नहीं लगा सकी है। दस साल का एक और बच्चा अपहरण करने वाले इन बदमाशों के चंगुल में जा फंसा, उसे घर के नजदीक से ही दिनदहाड़े उठा लिया गया। लेकिन उसके बाद भी उसने सूझबूझ से काम लिया और अपहरण करने वालों से अकेला भिड़ गया।

उन पर हमला कर दिया और घर लौट आया। बच्चे के परिजनों को जब इसकी सूचना मिली तो वे भी मौके पर दौड़े। बाद में बगरु थाने मे केस दर्ज कराया गया। जांच कर रही पुलिस ने बताया कि बगरु में मालियों की ढाणी छितरोली बस स्टैंड के नजदीक रहने वाले रामकिशोर सैनी का दस साल का बेटा अनीष घर के पास ही खेल रहा था। इसी दौरान एक बदमाश वहां आया और अनीष से पास ही किसी गांव का पता पूछने लगा।

अनीष ने पता बता दिया लेकिन इसके बाद उस बदमाश ने अनीष का अपहरण कर लिया। उसका मुंह दबा लिया और करीब एक किलोमीटर तक जबरन उसे अपने साथ खींचकर ले गया। उसके बाद बदमाश ने अपने अन्य साथियों को फोन कियां जिस नंबर पर फोन किया गया वह नंबर अनीष को याद हो गया। बदमाश कार लेकर आए और अनीष को साथ ले जाने की कोशिश करने लगे। उनमें से एक बदमाश ने अनीष को शांत करने के लिए जबरन नींद की गोली उसके मुंह में खिला दी और मुंह दबा दिया ताकि गोली गले से नीचे निकल जाए। लेकिन अनीष ने वह गोली कुछ ही देर में थूंक दी।

साहस जुटाया और वहां पड़े पत्थरों से अपहरणकर्ताओं पर हमला बोल दिया। उसके बाद करीब एक किलोमीटर से दौड़ता हुआ घर आ गया। घर आकर जब वह रोने लगा तब जाकर परिजनों को पूरे घटनाक्रम का पता चला। पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और आरोपियों की तलाश कर रही है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned