जयपुर में सुरंग खोदकर करोड़ों रुपए की चांदी चोरी मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता

जयपुर के सबसे चर्चित सुरंग खोदकर करोड़ों रुपए की चांदी चोरी करने के मामले में जयपुर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है।

By: kamlesh

Published: 03 Apr 2021, 06:09 PM IST

जयपुर। जयपुर के सबसे चर्चित सुरंग खोदकर करोड़ों रुपए की चांदी चोरी करने के मामले में जयपुर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। जयपुर पुलिस ने वैशाली नगर में चिकित्सक दंपति के बेसमेंट में सुरंग लगाकर चोरी करने वाले मुख्य सरगना अभियुक्त शेखर अग्रवाल और उसके भांजे जतिन जैन को गिरफ्तार करने में सफलता हाथ लगी है।

नेपाल भागने की फिराक में थे आरोपी
गिरफ्तार आरोपी शेखर अग्रवाल और जतिन जैन उत्तराखंड हरिद्वार ऋषिकेश में चांदी चोरी करने के बाद फरारी काट रहे थे। आरोपी यहां से नेपाल भागने की फिराक में थे। लेकिन जयपुर कमिश्नरेट की डीएसटी वेस्ट और वैशाली नगर थाना पुलिस ने गोपनीय और तकनीकी टीम की मदद से दोनों आरोपियों को धर दबोच लिया।

कर्ज को उतारने के लिए बनाया मास्टर प्लान
पुलिस की पूछताछ में दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूलते हुए डॉक्टर दंपति के बेसमेंट्स से करोड़ों रुपए की अपने साथियों की मदद से चांदी चोरी करना कबूला है। आरोपियों ने चोरी करने के बाद यह सिलिया जयपुर की ही तीन बड़ी फर्मों को बेच डाली। आरोपी शेखर अग्रवाल और जतिन पर करीब 3 से 4 करोड रुपए का कर्जा हो गया था। इस कर्ज को उतारने के लिए शेखर अग्रवाल और जतिन ने डॉक्टर दंपति सुनीत सोनी के यहां से चांदी चोरी करने का मास्टर प्लान बनाया। प्लान के तहत आरोपियों ने डॉक्टर दंपति के यहां काम करने वाले कर्मचारियों को भी अपनी साजिश में शामिल किया।

साजिश के तहत आरोपियों ने डॉक्टर सुनीत सोनी के पास का मकान खरीदा और यहां पर टीन शेड डालते हुए सुनीत सोनी के बेसमेंट से करोड़ों रुपए की चांदी की सिलिया चोरी कर ली। सिलिया चोरी करने के बाद शेखर अग्रवाल और जतिन ने योजना में शामिल और चांदी चोरी करने में भूमिका अदा करने वाले सभी हिस्सेदाओं को 500000 से लेकर के 2500000 रुपए तक की रकम दी और उन्हें चलता किया। इसके बाद आरोपी ने तीनों फर्मों को यह सिल्लियाँ बेचकर अपना कर्जा उतार लिया।

पुलिस को जैसे ही इस पूरे मामले की भनक लगी और परिवादी ने जब मुकदमा दर्ज कराया तो आरोपी अपने साथियों के साथ यहां से फरार हो गया और दिल्ली ऋषिकेश उत्तराखंड हरिद्वार में अपनी फरारी काटने लगा था। इस पूरे मामले की जांच बाद में एसओजी को सौंप दी गई। एसओजी ने मामले की जांच पड़ताल करते हुए चुराई गई सिल्लियां और बेचान की गई चांदी की सिल्लियों से आई रकम को भी बरामद किया है। साथ ही मामले में शामिल सभी आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है। बहरहाल पुलिस शेखर अग्रवाल और जतिन जैन से पूछताछ करेगी। पूछताछ के बाद दोनों आरोपियों को एसओजी को सुपुर्द किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned