चाय पीने जाते समय हादसा, सोडाला एलिवेटेड रोड की दीवार से बाइक टकराई, 40 फीट नीचे गिरने से युवक की मौत

मृतक युवक हनुमानगढ़ के मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी का इकलौता पुत्र हुआ हादसे का शिकार, गंभीर हालत में अस्पताल में कराया भर्ती, थोड़ी देर में तोड़ा दम

By: pushpendra shekhawat

Published: 01 Mar 2021, 09:11 PM IST

जयपुर। हनुमानगढ़ के मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी तेजासिंह गदराना के इकलौते पुत्र नरेन्द्र की जयपुर में सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। नरेन्द्र रविवार रात को डीसीएम से अजमेर पुलिया की तरफ सोडाला एलिवेटेड रोड पर बाइक से जा रहा था। तभी सुशीलपुरा के पास एलिवेटेड रोड की दीवार से बाइक के टकराने पर वह उछलकर करीब 40 फीट नीचे सड़क पर जा गिरा। गंभीर घायल होने पर उसे एसएमएस अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां पर थोड़ी देर बाद ही दम तोड़ दिया।

तेजासिंह के परिचित रोहिताश ने बताया कि मूलत: हनुमानगढ़ स्थित नई आबादी निवासी नरेन्द्र सिंह जयपुर के मानसरोवर में करीब एक वर्ष से रहकर निजी कंपनी में काम कर रहा था। हाल ही में उसने कंपनी छोड़ दी और अन्य कंपनी में जाने की तैयारी कर रहा था। रविवार रात नरेन्द्र अपने दोस्त अलवर के मुुंडावर निवासी ओसो यादव और सीकर निवासी गजेन्द्र के साथ अपनी-अपनी बाइक से पांच बत्ती स्थित एक दुकान पर चाय पीने जा रहा था। तभी हादसा हो गया।

बीच में चल रहा था नरेन्द्र

दोस्तों ने बताया कि 200 फीट चौराहा, डीसीएम से एलिवेटेड रोड होते हुए पांच बत्ती जा रहे थे। ओसो बाइक पर सबसे आगे चल रहा था। उसके पीछे नरेन्द्र और सबसे पीछे गजेन्द्र चल रहा था। नरेन्द्र की बाइक दीवार से टकराई और वह नीचे जा गिरा। बाइक करीब 50 मीटर तक दीवार के सहारे दौड़ते रही और फिर एलिवेटेड रोड पर गिर गई। गजेन्द्र ने ओसो को रोका और दोनों एक बाइक से नीचे पहुंचे। जहां पर एक वाहन कंपनी के गार्ड ने अन्य लोगों की मदद से नरेन्द्र को सड़क किनारे कर दिया था। दोनों दोस्तों ने गंभीर घायल नरेन्द्र को ऑटो से अस्पताल पहुंचाया। लेकिन उसकी जान नहीं बच सकी। पुलिस ने बाइक की रफ्तार तेज होने पर सड़क दुर्घटना होना बताया है।

दो बहनों का था इकलौता भाई

रोहिताश ने बताया कि नरेन्द्र दो बहनों का इकलौता भाई था। अभी उसकी शादी नहीं हुई थी। दोनों बहनों की शादी हो चुकी। नरेन्द्र के पिता तेजासिंह गदराना को शिक्षा विभाग में अच्छा काम करने पर लगातार गत दो वर्षों से मुख्यमंत्री सम्मानित कर चुके हैं। पोस्टमार्टम के बाद सोमवार को शव हनुमानगढ़ ले गए।

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned