रात में अचानक निकलीं पुलिस की 13 टीमें, नशे में वाहन चलाने वालों की जमकर हुई धरपकड़

रात में अचानक निकलीं पुलिस की 13 टीमें, नशे में वाहन चलाने वालों की जमकर हुई धरपकड़

abdul bari | Updated: 19 Aug 2019, 01:08:46 AM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

करीब 13 टीमें शहर में रात को ( late night action ) एक बजे तक एेसे ही वाहनों की जांच करती रहीं और नशे में वाहन चलाने वाले और तेज रफ्तार से वाहनों को दौड़ाने वालों की धरपकड़ ( jaipur traffic police ) कर 185 मोटर व्हीकल एक्ट में कार्रवाई कर 266 वाहनों को जब्त किया। वाहनों में 113 कार या जीप, 148 दुपहिया वाहन और 5 अन्य वाहन ( Vehicle seized ) थे।

जयपुर
नशे में वाहन चलाने को लेकर कई दफा रात को हादसे हो जाते हैं, इसको लेकर जयपुर ट्रेफिक पुलिस ( jaipur traffic police ) ने एेसे वाहन चलाने वालों पर कार्रवाई के लिए कड़ा रुख अख्तियार किया है। पुलिस ने आकस्मिक चैकिंग कर रात को ( late night action ) नशे में या गलत तरीके से वाहन चलाने वाले 266 वाहनों को जब्त किया और चालकों के लाइसेंस निलंबन के लिए परिवहन विभाग को भेज दिए।

 

 

इस तरह हुई कार्रवाई


वहीं कुछ वाहन चालकों के लाइसेंस नहीं होने पर उनको जुर्माना लगाया गया। रात के करीब 9.45 मिनट का समय हो रहा होगा, अजमेरी गेट के यादगार से ट्रेफिक पुलिसकर्मियों ( traffic police ) की हलचल दिखती है। अचानक वाहनों में सवार होकर पुलिसकर्मी टीम बनाकर अलग-अलग इलाके के लिए निकलते हैं। उनके पास ब्रेथ एनलाइजर, बॉडीवार्न कैमरा, रिफ्लेक्टिव जैकिट, रिफ्लेक्टिव टॉर्च लेकर निकलते है।

चंद ही पलों में सड़क पर नीली वर्दी और रिफ्लेक्टिव युक्त जिग-जैग बेरिकेट्स मुख्य सड़कों पर नजर आते है। आने-जाने वाले सभी वाहनों की गहनता से जांच करते है और चालकों के नशे में होने की जांच करते है।

 

 

266 वाहनों को किया जब्त ( Vehicle seized )

करीब 13 टीमें शहर में रात को एक बजे तक एेसे ही वाहनों की जांच करती रहीं और नशे में (
Drunk driving) वाहन चलाने वाले और तेज रफ्तार से वाहनों को दौड़ाने वालों की धरपकड़ कर 185 मोटर व्हीकल एक्ट में कार्रवाई कर 266 वाहनों को जब्त किया। वाहनों में 113 कार या जीप, 148 दुपहिया वाहन और 5 अन्य वाहन थे।

 

 

फिर दोहराई गलती तो मुकदमा

डीसीपी राहुल प्रकाश ने बताया कि पुलिस ने इस बार नशे में वाहन चलाने वालों के लाइसेंस निलम्बन के लिए आरटीओ ऑफिस में भेजे हैं, जबकि यदि एेसी गलती करते हुए दोबारा वाहन चालक मिलेंगे तो उन पर आईपीसी की धाराओं में मुकदमा दर्ज होगा।

 

ये खबरें भी पढ़ें...

चारदीवारी में उपद्रव के बाद शांति, नुक्कड़ सभाएं कर पुलिस कर रही समझाइश, 307 लोग चिन्हित


गुटखा खाने के दौरान ड्रायवर ने कराया एक्सीडेंट, अनियंत्रित होकर बस पलटी, 6 घायल


चचेरे भाईयों की शादी के दौरान युवती से चाकू की नोक पर बलात्कार

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned