स्कूल, आंगनबाड़ी व स्वास्थ्य केन्द्रों को मिलेगा पेयजल कनेक्शन

प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्रों के सभी स्कूलों, आंगनबाड़ी केन्द्रों, उप-स्वास्थ्य केन्द्रों और पंचायत भवनों में पेयजल कनेक्शन होंगे। जलदाय विभाग (Water supply department) पेयजल कनेक्शन (Drinking water connection) से वंचित ऐसे सभी स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, उप-स्वास्थ्य केन्द्र व पंचायत भवनों को 31 मार्च तक नल कनेक्शन देगा। विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांश पंत ने राज्य जल व स्वच्छता मिशन की कार्यकारी समिति की बैठक में इसके निर्देश दिए।

By: Girraj Sharma

Published: 27 Jan 2021, 10:45 PM IST

स्कूल, आंगनबाड़ी व स्वास्थ्य केन्द्रों को मिलेगा पेयजल कनेक्शन
— राज्य जल व स्वच्छता मिशन की कार्यकारी समिति की बैठक
— जलदाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांश पंत ने दिए निर्देश

जयपुर। प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्रों के सभी स्कूलों, आंगनबाड़ी केन्द्रों, उप-स्वास्थ्य केन्द्रों और पंचायत भवनों में पेयजल कनेक्शन होंगे। जलदाय विभाग (Water supply department) पेयजल कनेक्शन (Drinking water connection) से वंचित ऐसे सभी स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, उप-स्वास्थ्य केन्द्र व पंचायत भवनों को 31 मार्च तक नल कनेक्शन देगा।

विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांश पंत ने बुधवार को झालाना स्थित जल व स्वच्छता सहयोग संगठन (डब्ल्यूएसएसओ) कार्यालय में आयोजित राज्य जल व स्वच्छता मिशन की कार्यकारी समिति की बैठक में इसके निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, उप-स्वास्थ्य केन्द्र एवं पंचायत भवनों के समीप स्थित पानी की टंकी, हैण्डपम्प या अन्य जल स्रोतों से लाइन डालकर वहां तक नल से जल कनेक्शन देने की कार्रवाई करें। इसके लिए पंचायतीराज विभाग के अधिकारियों के साथ समन्वय कर काम किया जाए। बैठक में जल जीवन मिशन के तहत सिंगल विलेज तथा मल्टी विलेज स्कीम्स के लिए विद्युत कनेक्शन व रखरखाव सम्बंधी कार्यों, परियोजनाओं के क्रियान्वयन में सामुदायिक भागीदारी तथा जिलों में ग्रामीण जल एवं स्वच्छता समितियोें के गठन की प्रगति के बारे में भी चर्चा की गई।

37 हजार ग्रामीण जल व स्वच्छता समितियों का गठन
बैठक में अधिकारियों ने बताया कि राज्य में जल जीवन मिशन के तहत जिला जल एवं स्वच्छता समितियों के तहत 43 हजार 364 ग्रामीण जल एवं स्वच्छता समितियों में से अब तक 37 हजार ग्रामीण जल एवं स्वच्छता समितियों का गठन पूरा कर लिया गया है। शेष समितियों का गठन 31 जनवरी तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके अलावा सभी 33 जिलों में ‘इम्पलीमेंटेशन सपोर्ट एजेंसीज‘ के बारे में भी इस माह के अंत तक आदेश जारी कर दिए जाएंगे।

Girraj Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned