लद्दाख के क्रिकेटरों के लिए खुश खबर, घरेलू सत्र में जम्मू कश्मीर की टीम से खेल सकेंगे

लद्दाख के क्रिकेटरों के लिए खुश खबर, घरेलू सत्र में जम्मू कश्मीर की टीम से खेल सकेंगे

satish sharma | Updated: 06 Aug 2019, 05:55:11 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

LadakhLadakhनए केन्द्र शासित प्रदेश बने लद्दाख के क्रिकेटर इस सत्र से शुरू हो रहे घरेलू क्रिकेट सीजन में अब जम्मू कश्मीर की टीम से खेल सकेंगे।

New DelhiJammu and Kashmir से विशेष राज्य का दर्जा हटाए जाने के इस फैसले से वहां के क्रिकेटरों के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ गई है। ऐसे में BCCI ने भी साफ किया है कि जम्मू-कश्मीर और Ladakh के लिए अलग-अलग क्रिकेट संघ नहीं होगी और लद्दाख के क्रिकेटर जम्मू कश्मीर की टीम से खेल सकेंगे। आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर की Ranji टीम में अभी तक लद्दाख का कोई खिलाड़ी नहीं है लेकिन संभावना है कि अगले रणजी सत्र तक लद्दाख के क्रिकेटर भी जम्मू कश्मीर की टीम में भागीदारी कर सकते हैं।
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के कामकाज को देखने के लिए बनाई प्रशासकों की समिति (COA) के अध्यक्ष विनोद राय ने यह स्पष्ट किया है कि नए केन्द्र शासित प्रदेश लद्दाख के क्रिकेटर घरेलू सत्र में जम्मू कश्मीर के लिए खेल सकेेंगे। रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई फिलहाल दो अलग प्रदेश ईकाइयां बनाने नहीं बना रहा है। राय ने कहा, हम अभी लद्दाख के लिए अलग क्रिकेट संघ नहीं बनाएंगे। उस क्षेत्र के क्रिकेटर बीसीसीआई की सभी घरेलू स्पर्धाओं में जम्मू-कश्मीर के लिए खेलेंगे।
Chandigarh जैसी व्यवस्था
जम्मू-कश्मीर की रणजी टीम में अभी तक लद्दाख का कोई खिलाड़ी नहीं है। आगामी ranji i Session इस साल के आखिर में दिसंबर में शुरू होगा। लद्दाख को भी पुडुचेरी की तरह मतदान अधिकार पर राय ने बताया कि अभी इस पर कोई बात नहीं हुई है। उन्होंने कहा, हमने इस पर कोई बात नहीं की है। इस मामले में सब कुछ चंडीगढ़ की तरह रहेगा जो एक केंद्रशासित प्रदेश है। उसके खिलाड़ी Punjab या Haryana के लिए खेलते हैं। राय ने कहा, हमें यकीन है कि जम्मू-कश्मीर के घरेलू मैच पिछले साल की तरह श्रीनगर में ही होंगे। वैकल्पिक घरेलू मैदान को लेकर कोई बात नहीं की गई है। आपको बता दें, Jammu Kashmir Cricket Association को साल 1970 में ही बीसीसीआइ से मान्यता मिल गई थी।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned