मांगों को लेकर जनता जल योजना श्रमिकों का विधानसभा पर धरना

22 गोदाम सर्किल पर जुटेंगे जनता जल योजना श्रमिक, नियमित करने और मानदेय बढ़ाने की कर रहे हैं मांग

By: firoz shaifi

Published: 02 Mar 2021, 11:27 AM IST

जयपुर। कर्मचारी महासंघ एकीकृत से संबंध प्रदेश जनता जल योजना श्रमिक यूनियन आज अपनी मांगों को लेकर विधानसभा के बाहर धरना-प्रदर्शन करने जा रहे हैं। प्रदर्शन में जनता जल योजना से जुड़े 6 हजार से ज्यादा श्रमिक शामिल होंगे। हालांकि श्रमिको को 22 गोदाम स्थित सहकार से आगे नहीं जाने दिया जाएगा।

श्रमिकों के इस प्रदर्शन को कर्मचारी महासंघ एकीकृत ने भी अपना समर्थन दिया है।दोपहर 12 बजे से शुरू होने वाला धरना शाम पांच बजे तक चलेगा। जनता जल योजना श्रमिक मानदेय बढ़ाने और नियमित करने की मांग को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। जनता जल योजना श्रमिक नियमित नहीं किए जाने तक 18 हजार रुपए मासिक मानदेय देने और पंचायती से पुनः पीएचईडी विभाग में शिफ्ट किए जाने की मांग कर रहे हैं।

कर्मचारी महासंघ एकीकृत के अध्यक्ष गजेंद्र सिंह ने बताया कि राज्य सरकार ने 1994 में जनता जल योजना के तहत इन श्रमिकों को लिया था। ये ग्रामीण इलाकों में पंप चालक हैं। जिन स्थानों पर जलदाय विभाग के कर्मचारी नहीं होते थे वहां इन श्रमिकों को पंप चालक के रूप में तैनात किया गया था। जिन्हें उस समय 500 रुपए मासिक मानदेय मिलता था। 2012 में इन श्रमिकों को जलदाय विभाग से पंचायती राज विभाग के सुपुर्द किया गया था।

वेतनमान बढ़ाने के लिए जनता जल योजना श्रमिक पूर्व में कई बार प्रदर्शन कर चुके हैं नियमित करने का मामला कैबिनेट सब कमेटी में इनके मामले हैं। गजेंद्र सिंह का कहना है कि वर्तमान में इन्हें 5800 रुपए मासिक मिल रहे हैं जो काफी कम है।

इससे परिवार का गुजारा नहीं हो पा रहा है। ऐसे में जनता जल योजना श्रमिक नियमित करने की मांग को लेकर आज जयपुर में धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका कहना है कि जब तक सरकार श्रमिकों को नियमित नहीं किया जाता है तब उन्हें 18 हजार रुपए मासिक मानदेय दिया जाए, साथ ही उनकी सेवाए फिर से पीएचईडी में कर दी जाए।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned