भंवरी देवी हत्याकांड में अमेरिकन लिंक मामला क्या है, समझे..

भंवरी देवी हत्याकांड में अमेरिकन लिंक मामला क्या है, समझे..
jodhpur in bhanwari devi murder case

manish chaturvedi | Publish: Oct, 15 2018 07:22:29 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

भंवरी देवी हत्याकांड में अमेरिकन लिंक मामला क्या है, समझे..

 


जोधपुर. सात वर्ष पुराने भँवरीदेवी हत्याकाण्ड मामले में सोमवार को अभियोजन पक्ष की ओर से एससीएसटी कोर्ट में पेश की गई सीआरपीसी की धारा 275 पर बहस हुई,सीबीआइ चाहती है कि भँवरी की कथित हड्डियों की जाँच करने वाली अमेरिकन जाँच एजेंसी एफबीआइ की अधिकारी अम्बर बी कार की गवाही अमेरिका से विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये करवाई जाए जबकि बचाव पक्ष का कहना है कि ऐसा कोई प्रावधान ही नहीं है। सुनवाई के दौरान पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के साथ मामले के आरोपी इंद्रा,सोहनलाल,बलदेव,शहाबुद्दीन, परसराम,बिशनाराम, अशोक,दिनेश, कैलाश, पुखराज,रेशमाराम सहीराम, उमेशाराम तथा भँवरी के पति अमरचंद नट को दोपहर ढाई बजे कोर्ट में पेश किया । नियमित सुनवाई के तहत मंगलवार को मामले की सुनवाई जारी रहेगी। सुनवाई के दौरान सीबीआइ के वकील तथा बचाव पक्ष के अधिवक्ता हेमंत नाहटा, संजय विश्नोई तथा अन्य उपस्थित थे।

यह है मामले का अमेरिकन लिंक !

सात साल पुराने भंवरी देवी हत्याकांड की जांच कर चुकी सीबीआइ ने दावा किया था कि राजीव गांधी लिफ्ट नहर से जो जली हड्डियां बरामद हुई थी, वह भंवरी देवी की ही थी लेकिन भारतीय एसएफएल एजेंसी इन हड्डियों से डीएनए निकालने में नाकाम रही थी , इसलिए इन तथाकथित हड्डियों के सैंपल अमरीका स्थित एफबीआइ को भेजे गए थे। एफबीआइ की सीनियर डीएनए एक्सपर्ट अम्बर बी कार ने ही उन हड्डियों का विश्लेषण किया था। हालांकि एफबीआइ ने अपनी रिपोर्ट सीबीआइ को सोफ दी थी लेकिन कानूनी प्रावधान के चलते अनुसंधान अधिकारी को कोर्ट में पेश होकर जाँच के सम्बन्ध में गवाही देनी होती है। गौरतलब है कि कई बार भारतीय तथा अमेरिकी दूतावास के माध्यम से एफबीआइ को समन भेजे जा चुके हैं परंतु डीएनए एक्सपर्ट कोर्ट में हाजिर नहीं हो पाई। अब सीबीआइ अमेरिकी गवाह की गवाही विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये करवाना चाहती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned