scriptJP Nadrida said work with everyone | एकला चलो की रणनीति नहीं, कोर कमेटी में सामूहिक लेने होंगे निर्णय | Patrika News

एकला चलो की रणनीति नहीं, कोर कमेटी में सामूहिक लेने होंगे निर्णय

 

— भाजपा नेताओं के अलग-अलग चलने से नाराज आलाकमान ने दी हिदायत
- प्रदेश में 6 माह से नहीं हुई कोर कमेटी की बैठक

जयपुर

Published: April 22, 2022 12:02:00 pm

अरविन्द सिंह शक्तावत
जयपुर।
राज्य में डेढ़ साल बाद विधानसभा चुनाव होने हैं। एेसे में एकला चलों की रणनीति के बजाय भाजपा नेताओं को कोर कमेटी की बैठक बुलाकर सामूहिक निर्णय लेने होंगे। यह निर्देश हाल ही दिल्ली में राष्टीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने प्रदेश के आला नेताओं को दिए हैं। प्रदेश में 6 माह से कोर कमेटी की बैठक ही नहीं हुई है। माना जा रहा है कि अब यह बैठक राज्य स्तरीय निर्णयों के लिए नियमित करनी होगी।
सूत्रों के मुताबिक प्रदेश के नेताओं को कहा गया है कि जब पहले ही यह तय किया जा चुका है कि कोई भी महत्वपूर्ण निर्णय कोर कमेटी की बैठक कर ही किया जाएगा, फिर क्यों ऐसा नहीं हो रहा है? वर्तमान में प्रदेश भाजपा की कोर कमेटी की बैठकें चुनाव तक ही सिमट कर रह गई है। कोई भी बड़ा मामला हो, प्रदेश के नेताओं में एकजुटता नजर ही नहीं आ रही है।
एकला चलो की रणनीति नहीं, कोर कमेटी में सामूहिक लेने होंगे निर्णय
एकला चलो की रणनीति नहीं, कोर कमेटी में सामूहिक लेने होंगे निर्णय
हाल ही में करौली में हुई हिंसा मामले में पार्टी नेताओं की एकता की जगह गुटबाजी और खुलकर सामने आ गई थी। पार्टी ने उप नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ के नेतृत्व में एक टीम करौली हिंसा की जांच के लिए बनाई थी। यह कमेटी तो आधिकारिक रूप से करौली गई, लेकिन इसके बाद पार्टी के कई नेता अपने-अपने स्तर पर करौली पहुंच गए। प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया न्याय यात्रा के लिए करौली गए, हालांकि उन्हें पुलिस ने करौली शहर में नहीं जाने दिया। इसी तरह राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा भी अपने स्तर पर करौली चले गए। पार्टी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे भी अलग से करौली गईं। पार्टी में चल रही संवादहीनता को करौली में हुई घटना ने फिर से सामने ला दिया।
---
कोर कमेटी की अक्टूबर 2021 में हुई थी बैठक
भाजपा की प्रदेश कोर कमेटी चुनावों तक सिमट कर रह गई है। अक्सर कोर कमेटी की बैठक तभी हुई है, जब प्रदेश में कोई चुनाव हो। आखिरी बार कोर कमेटी की बैठक अक्टूबर, 2021 में हुई थी। इसके बाद अभी तक कोई बैठक नहीं हुई है। बैठक हुए छह माह निकल चुके हैं। आखिरी बार जो बैठक हुई थी, वह भी चुनावों के चलते ही हुई थी।
---
कोर कमेटी में ये नेता शामिल
प्रदेश में करीब सवा साल पहले बनी कोर कमेटी में प्रदेश के 16 नेताओं को शामिल किया गया था। इसमें प्रदेश से अध्यक्ष सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे, ओम प्रकाश माथुर, चन्द्रशेखर, राजेन्द्र राठौड़, गजेन्द्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, कैलाश चौधरी, राजेन्द्र गहलोत, कनक मल कटारा, सी पी जोशी शामिल हैं। वहीं विशेष आमंत्रित सदस्यों में प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह, भूपेन्द्र यादव, भारती बेन शियाल, अल्का सिंह गुर्जर शामिल हैं।
---
राष्ट्रीय नेता एकजुट करने की कोशिश में लगे
पार्टी के राष्ट्रीय नेता इस कोशिश में लगे हैं कि राज्य के नेताओं को एक कर एकजुटता का जनता को संदेश दिया जा सके। दिसम्बर में जब संगठन के कार्यक्रम में केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह आए थे, तब उन्होंने भी किसी एक के बजाय सभी नेताओं को तवज्जो दी थी। मंच पर प्रदेश के नेताओं को वरिष्ठता के आधार पर अपने साथ बिठाया। इसी तरह हाल ही में दिल्ली में हुई बैठक में भी सभी बड़े नेताओं को बुलाकर यह संदेश दिया गया कि पार्टी के लिए सब बराबर हैं। पार्टी के लिए परस्पर सब जरूरी हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: अपनी पत्नी पर खूब प्रेम लुटाते हैं इस नाम के लड़केबगैर रिजर्वेशन कर सकेंगे ट्रेन में यात्रा, भारतीय रेलवे ने जारी की सूचीनाम ज्योतिष: इन 3 नाम की लड़कियां जहां जाती हैं वहां खुशियों और धन-धान्य के लगा देती हैं ढेरजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंधन के देवता कुबेर की इन 4 राशियों पर हमेशा रहती है कृपा, अच्छा बैंक बैलेंस बनाने में रहते है कामयाबआपके यहां रहता है किराएदार तो हो जाएं सावधान, दर्ज हो सकती है एफआईआर24 हजार साल ठंडी कब्र में दफन रहा फिर भी निकला जिंदा, बाहर आते ही बना दिए अपने क्लोनअंक ज्योतिष अनुसार इन 3 तारीख में जन्मे लोगों के पास खूब होती है जमीन-जायदाद

बड़ी खबरें

नेपाल: चार भारतीय सहित 19 यात्रियों को ले जा रहा एयरक्रॉप्ट हुआ लापता, हादसे की आशंकाUniform Civil Code: मोदी सरकार का अगला एजेंडा है समान नागरिक संहिता, उत्तरखंड से शुरुआत, राज्यों में मंथनआज केरल में दस्तक दे सकता है मानसून, यूपी-बिहार सहित कई जगह बारिश का अलर्टभारत और बांग्लादेश के बीच 2 साल बाद फिर शुरू हुई ट्रेन, कोलकाता से हुई रवानाब्राजील में लैंडस्लाइड और बाढ़ से 31 की मौत, हजारों लोग हुए बेघरIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगाArmy Recruitment Change: 'टूअर ऑफ ड्यूटी' के तहत 4 साल के लिए होंगी भर्तियां, फिर 25% युवाओं का पूर्ण चयनRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.