देसी गाय के हाईटेक डेयरी फार्म को बढ़ावा देने के लिए कामधेनु डेयरी योजना शुरू

दुधारू गायें खरीद कर शुरू कर सकते हैं डेयरी
डेयरी में रखने होंगे एक ही नस्ल (देसी) के 30 गौवंश

By: Sunil Sisodia

Published: 03 Jun 2020, 11:39 PM IST

जयपुर।

सरकार ने देसी गाय के हाईटेक डेयरी फार्म को बढ़ावा देने के लिए कामधेनु डेयरी योजना शुरू की है। योजना का संचालन पशुपालन विभाग के जरिए किया जाएगा। अधिकतम एक इकाई 36.68 लाख की हाेगी। जिसमें प्रोजेक्ट लागत का 30 फीसदी सरकार खर्च करेगी और 10 फीसदी राशि डेयरी स्थापित करने वाले उद्यमी को करनी होगी। 60 फसदी राशि बैंक की ओर से लोन दी जाएगी। डेयरी स्थापित करने वाले शिक्षित पशुपालक को पशुपालन का अनुभव और खुद की भूमि होना आवश्यक है।
जिला कलक्टर और जिला गौपालन समिति के अध्यक्ष डॉ.जोगाराम ने बताया कि ‘‘कामधेनू डेयरी योजना’’ के तहत जिले में पशुपालन विभाग की प्रजनन नीति के अनुरूप वित्तीय वर्ष 2020-21 में चयनित अभ्यर्थियों के माध्यम से कामधेनू डेयरियां खोली जाएंगी। इस डेयरी में उच्च दुग्ध क्षमता वाली एक ही नस्ल के 30 गौवंश होगें। डेयरी खोलने के लिए लाभार्थी के पास पर्याप्त स्थान और हरा चारा उत्पादन करने के लिए कम से कम एक एकड़ भूमि होनी चाहिए। इस प्रोजेक्ट की लागत लगभग 36 लाख रूपये निर्धारित की गई है। गौरतलब है कि पशुपालकों, गोपालकों, कृषकों, नव युवकों, महिलाओं को स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए कामधेनु डेयरी योजना शुरू की गई है। डेयरी लगाने के लिए इच्छुक और पात्रता रखने वाले अभ्यर्थियों को 30 जून तक निर्धारित प्रपत्र में आवेदन करना होगा।

Sunil Sisodia Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned