scriptKashmir Muslim Terrorist killed hindu manager in kulgam Just Married | अभी मेहंदी भी नहीं उतरी थी, आतंकियों ने मिटाया मांग का सिंदूर | Patrika News

अभी मेहंदी भी नहीं उतरी थी, आतंकियों ने मिटाया मांग का सिंदूर

अभी दुल्हन के हाथों की मेहंदी सूखी भी नहीं थी कि आतंकवादियों ने सिंदूर पोंछ दिया। कुलगाम जिले के इल्काही देहाती बैंक मोहनपोरा में कार्यरत शाखा प्रबंधक विजय कुमार की बैंक खुलने के बाद 10 बजकर 51 मिनट पर बैंक में घूसकर गोली मारकर हत्या कर दी।

जयपुर

Published: June 02, 2022 04:26:32 pm

कश्मीर में आतंकवादियों की गोली का शिकार हुए विजय कुमार की शादी अभी चार महीने पहले ही हुई थी। इसी साल फरवरी में ही विजय की शादी हुई थी। अभी दुल्हन के हाथों की मेहंदी सूखी भी नहीं थी कि आतंकवादियों ने सिंदूर पोंछ दिया। विजय चार साल से कश्मीर में ही पोस्टेड थे। उनकी शादी 10 फरवरी को हनुमानगढ़ के पक्का सारण गांव की मनोज कुमारी से हुई थी। शादी के दस दिन बाद ही विजय वापस कश्मीर चले गए। एक महीने बाद अपनी पत्नी को भी कश्मीर बुला लिया। जुलाई में पत्नी के साथ घर आने की तैयार में थे लेकिन अब उनकी पत्नी उनका पार्थिव शरीर लेकर आ रही है।

222_2.jpg

कुलगाम जिले के इल्काही देहाती बैंक मोहनपोरा में कार्यरत शाखा प्रबंधक विजय कुमार की बैंक खुलने के बाद 10 बजकर 51 मिनट पर बैंक में घूसकर गोली मारकर हत्या कर दी। विजय कुमार की कुल उम्र 26 साल थी। वह राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले के निवासी थे। उन्हें आतंक के गढ़ दक्षिणी कश्मीर के कुलमाग जिले के आरह क्षेत्र में गोली मारी गई। विजय कुमार की पोस्टिंग पांच दिन पहले ही इस बैंक में हुई है। इससे पहले वह कुकुरनाग स्थित बैंक शाखा में तैनात थे। गौरतलब है कि इस साल जनवरी से अब तक कश्मीर में 17 लक्षित हत्या आतंकियों ने की हैं। इसमें से 11 लोग हिंदू थे।

photo1654163358.jpegकेएफएफ ने ली जिम्मेंवारी
कुकरमुत्ते की तरह कश्मीर में उगे आतंकी संगठनों में से कश्मीर फ्रीडम फाइटर नाम के एक नए संगठन ने इस हत्या की जिम्मेंदारी ली है। केएफएफ प्रवक्ता वसीम मीर ने प्रेस नोट जारी करते हुए कहा है कि इस बैंक मैनेजर के पास कश्मीर का निवास प्रमाण पत्र था। ऐसे में उसे मार दिया गया।
...और मारे जाएंगे
केएफएफ ने कहा है कि यह हत्या कश्मीर में बसने का सपना देख रहे लोगों की आंख खोलने के लिए काफी ळै। मोदी सरकार की शह पर अगर कोई कश्मीर की जनसंख्यिकी बदलने की कोशिश करेगा तो उसका यही अंजाम होगा। जमीन के बदलने जान की कीमत समझ में आना काफी है। अभी देर नहीं हुई है...
pistol.jpgदेशी पिस्टल से विजय की हत्या
विजय कुमार की हत्या का वीडियों देखने पर साफ नजर आ रहा है कि इस हत्या में पिस्टल का प्रयोग किया गया है। पिछले तीन साल में बढ़े सुरक्षाबलों के दबाव के कारण पाकिस्तानी हथियार पहुंचने में कमी आई है। फिर आतंकियों ने सुरक्षाकर्मियों से हथियार छीने। इस पर भी काबू पा लिया गया अब आतंकियों की रणनीति ही बदल गई है। देश में बने देशी पिस्टल से आतंक फैला रहे हैं। इसे छिपाने में भी मेहनत नहीं करनी पड़ती। ऐसे असलहों को देश में कहीं से भी खरीदा जा सकता है।
अशोक गहलोत ने जताया दु:ख
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विजय कुमार की हत्या पर दुख जताते हुए लिखा है... 'जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में कार्यरत हनुमानगढ़, राजस्थान के निवासी श्री विजय कुमार की आतंकियों द्वारा हत्या घोर निंदनीय है. मैं ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति एवं परिवार को हिम्मत देने की प्रार्थना करता हूँ.NDA सरकार कश्मीर में शांति बहाल करने में असफल रही है.केन्द्र सरकार कश्मीर में नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करे. हमारे नागरिकों की इस तरह आतंकियों द्वारा हत्या बर्दाश्त नहीं की जाएगी'
newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी (@aanandmani) राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है। लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाब"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एकनाथ शिंदे ने कहा- यह बालासाहेब के हिंदुत्व और आनंद दिघे के विचारों की जीत हैMaharashtra Political Crisis: शिंदे खेमा काफी ताकतवर, उद्धव ठाकरे के लिए मुश्किल होगा दोबारा शिवसेना को खड़ा करनासचिन पायलट बोले-गहलोत मेरे पितातुल्य, उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.