कटारिया और पूनिया ने की मुख्यमंत्री गहलोत से मुलाकात

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया एवं नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने एक बार फिर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की और कोरोना के खिलाफ लड़ने तथा इसके लिए हर संभव सहयोग का भरोसा दिलाया है। दोनों नेताओं ने मुख्यमंत्री गहलोत को 21 सूत्रीय सुझाव भी दिए हैं। उन्होंने कहा कि संक्रमण नहीं फैले इसके लिए लॉक डाउन की अनुपालना शक्ति से कराई जाए। राशन एवं खाद्य सामग्री जरूरतमंद लोगों तक पहुंचे और कहीं कमी न आए तथा संभव हो तो "डोर स्टेप डिलीवरी" अथवा जरूरी वस्तुओं सरकारी जनता स्टोर या अन्नपूर्णा रसोई

By: Prakash Kumawat

Updated: 27 Mar 2020, 10:45 PM IST

कटारिया और पूनिया ने की मुख्यमंत्री गहलोत से मुलाकात
कोरोना से निपटने के लिए सीएम को दिए 21 सुझाव
हर संभव सहयोग का दिया भरोसा

जयपुर
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया एवं नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने एक बार फिर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की और कोरोना के खिलाफ लड़ने तथा इसके लिए हर संभव सहयोग का भरोसा दिलाया है। दोनों नेताओं ने मुख्यमंत्री गहलोत को 21 सूत्रीय सुझाव भी दिए हैं।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से उन्होंने कहा कि संक्रमण नहीं फैले इसके लिए लॉक डाउन की अनुपालना शक्ति से कराई जाए। राशन एवं खाद्य सामग्री जरूरतमंद लोगों तक पहुंचे और कहीं कमी न आए तथा संभव हो तो "डोर स्टेप डिलीवरी" अथवा जरूरी वस्तुओं सरकारी जनता स्टोर या अन्नपूर्णा रसोई जैसी व्यवस्था सरकार के स्तर पर की जाए।
पूनिया और कटारिया ने मुख्यमंत्री से कोरोना के टेस्ट सेंटर बढ़ाने तथा जांच निशुल्क करने के साथ ही मेडिकल कॉलेज एवं बड़े अस्पतालों में चिकित्सकों एवं नर्सिंग कर्मियों तथा पैरामेडिकल सुरक्षा एवं सफाई स्टाफ की ड्यूटी रोटेशन के आधार पर करने का सुझाव दिया। सतीश पूनिया ने कहा कि प्रदेश में बारिश के कारण किसानों का भारी नुकसान हुआ है उसका यथाशीघ्र आकलन कर संभव सहयोग करें तथा किसानों सहित आम जनता के 3 माह तक के पानी बिजली के बिल माफ किए जाएं। उन्होंने राज्य की वित्तीय संस्थाओं से लिए गए ऋण 3 माह बाद बाद भरने की छूट देने और पैनल्टी माफ करने, कोरोना के विशेष उपायों के लिए प्रदेश एवं जिला स्तर पर विभाग वार हेल्पलाइन शुरू करने। प्रदेशभर में सोडियम हाइपोक्लोरेट का छिड़काव कराने, थानों के माध्यम से भी सामग्री एवं पका हुआ खाना बांटवाने. चिकित्सा सुविधाओं के लिए विधायक कोष की राशि 5 लाख से बढ़ाकर 10 लाख तक करने जाने की स्वीकृति देने जैसे 21 सुझाव दिए।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने बताया कि भाजपा के सभी जन प्रतिनिधि, पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता इस कार्य में जुटे हुए हैं। पार्टी की हेल्पलाइन पर भी कई सार्थक सुझाव आते हैं साथ ही हमारे नेता प्रतिपक्ष उपनेता प्रतिपक्ष एवं तीनों केंद्रीय मंत्री भी लगातार कार्यकर्ताओं और जनता के संपर्क में है इस दौरान प्राप्त सुझावों को आप तक समय पर पहुंचाने का प्रयास रहता है इसी क्रम में जो सुझाव आए हैं, वे मुख्यमंत्री को दिए गए हैं।

Prakash Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned