दीवाली की शॉपिंग न हो जेब पर भारी-diwali shopping

दीवाली की शॉपिंग न हो जेब पर भारी-diwali shopping
दीवाली की शॉपिंग न हो जेब पर भारी-diwali shopping

Tasneem Khan | Updated: 09 Oct 2019, 06:50:24 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

जयपुर। त्योहार का सीजन है और शॉपिंग का भी। इन दिनों कपड़ों की ही नहीं बल्कि घरेलू सामान की भी जमकर खरीदारी हो रही है। इस दौरान घर का बजट बिगड़ने की भी पूरी तैयारी रहती है। ऐसे में जरूरी है कि आप अपनी खरीदारी को सीमित ही रखें और दिखाएं जरा सी समझदारी...

जयपुर। दीवाली के साथ ही घर में कुछ बदलाव का भी मौसम आ गया है। दीवाली के लिए कपड़े, जूते, पटाखे और मिठाइयों की शॉपिंग तो होनी ही है, साथ ही घर में भी नए सामान लाने की तैयारी हर ओर है। नया सामान लाने के लिए बजट का बड़ा हिस्सा खर्च होता है। साथ ही इस सीजन में शॉपिंग जमकर होती है। ऐसे में सेविंग तो खत्म होती ही है, आपका बजट भी गड़बड़ा जाता है। ऐसे में जरूरी है कि आप स्मार्ट शॉपिंग पर जोर दें। मतलब जरूरी सामान ही खरीदें। शॉपिंग पर जाने से पहले ही तय कर लें क्या खरीदा जाना है और आपका बजट कितना है।
धनतेरस और दीवाली की खरीदारी के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों बाजार सज गए हैं। बिक्री बढ़ाने के लिए कंपनियां इलेक्ट्रॉनिक गैजेट, घरेलू उपकरण से लेकर कार, मोटरसाइकिल पर भारी छूट दे रही हैं। वहीं दूसरी ओर बैंक और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियां आकर्षक ऑफर के साथ सस्ती ब्याज दर पर लोन मुहैया करा रही हैं। ऐसे में आप इस मौके का समझदारी से इस्तेमाल कर छोटे से बड़े सपने पूरा करने के साथ सामान की खरीदारी पर बड़ी बचत भी कर सकते हैं।

आजकल टीवी, फ्रिज, एसी, कूलर, पंखे, फर्नीचर से लेकर हर छोटा बड़ा सामान ऑनलाइन मिल रहा है। ऑनलाइन लेने में क्रेडिट कार्ड से खरीदारी पर कैशबैक और भारी छूट के ऑफर भी मिल रहे हैं। ऐसे में बाजार की कीमत और ऑनलाइन सामान की कीमत में तुलना जरूर कर लें। आपको जो भी चाहिए, वो जहां सस्ती कीमत में मिले वहीं से खरीदें। वहीं आपका बजट अलाउ नहीं कर रहा और घर में बड़े सामान खरीदने जरूरी हैं तो आप ऑनलाइन साइट से इसे किश्तों पर भी खरीद सकते हैं।

घर के छोटे सामान लोग अक्सर ज्यादा खरीद लेते हैं या फिर जरूरत न हो तो भी खरीद लेते हैं। इससे भी आपका बजट बिगड़ सकता है। जो भी खरीदने जाएं, एक बार घर की अलमारी या स्टोर को जरूर देख लें। कई बार कुछ चीजें आपके पास होती हैं, फिर भी आप बाजार से उसे खरीद लाते हैं। और ऐसे सामान फिर से बिना किसी काम में आए स्टोर में डाल दिए जाते हैं।

अधिकतर प्लास्टिक आइटम और बर्तन खरीदने की जल्दबाजी में वे बर्तन भी खरीद लिए जाते हैं, जो पहले ही घर में हैं। इसीलिए पहले घर में देख लें, उसके बाद जिसकी जरूरत है, उसकी लिस्ट बनाए। बिना लिस्ट बनाए खरीदारी से खर्च ज्यादा होता है। लिस्ट बनाकर भी बाजार जाए तो यह जरूर तय कर लें कि सिर्फ लिस्ट का सामान ही खरीदा जाए। ऐसा न हो कि कुछ और पसंद आए तो आप बिना काम उसे भी खरीद लें।
कपड़ों पर जितना कम हो सके खर्च करें। क्योंकि इन दिनों फैशन जल्दी—जल्दी बदल रहे हैं। ऐसे में कपड़ों की ज्यादा खरीदारी आपकी वार्डरोब को पुराने फैशन से भर सकती है, साथ ही आपका पैसा भी व्यर्थ जाएगा। इसीलिए कपड़ों के साथ ज्वैलरी पर भी कम खर्च करें।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned